उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बदरीनाथ यात्रा के बारे में अपने विचार प्रकट किए हैं साथ ही उन्होंने एक सुंदर वीडियो भी साझा किया है।

करोड़ों हिंदुओं की आस्था के प्रतीक श्री बदरीनाथ मोक्षधाम के कपाट आज अपराह्न 3:35 बजे पूरे विधि-विधान के साथ शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। इसके साथ ही द्वितीय केदार मद्महेश्वर धाम के कपाट भी आज सुबह बंद कर दिए गए हैं। गंगोत्री, यमुनोत्री और बाबा केदार के बाद आज भगवान बदरीविशाल के कपाट बंद होने के साथ ही शीतकाल के लिए चारधाम यात्रा का भी समापन हो गया। कोविड-19 के दृष्टिगत इससे बचाव के सभी मानकों का पालन करते हुए इस सीजन में लगभग 1 लाख 45 हजार श्रद्धालुओं ने भगवान बदरीविशाल के दर्शन कर पुण्य लाभ कमाया। इस वर्ष चारधाम यात्रा में लगभग 3 लाख 11 हजार श्रद्धालुओं/तीर्थयात्रियों ने दर्शन किए। मैं आभारी हूँ सभी श्रद्धालुओं/तीर्थयात्रियों, स्थानीय जनता एवं मंदिर समिति का जिन्होंने कोविड-19 के सभी मानकों का पालन करते हुए यात्रा को सही से संपन्न कराने में अपना बहुमूल्य योगदान दिया। मैं भगवान बदरीविशाल से सभी की सुख-समृद्धि एवं शांति की कामना करता हूं।