अयोध्या मसले पर फैसले से पहले शहर की पुलिस मुस्तैद हो गई है। कानपुर में पहली बार एयर सर्विलांस से निगरानी की जाएगी। बुधवार को परेड स्थित क्रिस्टल पार्किंग की बिल्डिंग से दो किमी की ऊंचाई पर ‘एयरो स्टैग’ लांच किया गया।इससे 13 किलोमीटर की परिधि में होने वाली गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी। एयरो स्टैग में दो एचडी कैमरे लगे हैं, जो सीधे पुलिस कंट्रोल रूम से जुड़े हैं।

 

एक क्लिक करते ही किसी भी समय पर किसी भी जगह का लाइव वीडियो कंट्रोल रूम में देखा जा सकेगा। कहीं आपात स्थिति होने पर  ऑटोमैटिक सिग्नल कंट्रोल रूम को मिलेंगे। एसएसपी अनंत देव ने बताया कि शहर में धारा 144 भी लागू कर दी गई है।

एयरो स्टैग से यदि कहीं पर कुछ संदिग्ध गतिविधियां दिखाई देंगी, तो वहां की तस्वीरें व वीडियो सुरक्षित कर आला अधिकारियों को जानकारी दी जाएगी, जिससे त्वरित कार्रवाई की जा सके।

 

सोशल मीडिया पर खास नजर
डीएम विजय विश्वास पंत ने बताया कि सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए चार आईटी सेल बनाए गए हैं। भड़काऊ पोस्ट करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। व्हाट्सएप ग्रुपों पर अगर माहौल को बिगाड़ने वाले मैसेज चले, तो दोषियों के साथ-साथ ग्रुप एडमिन पर भी कार्रवाई होगी। रिजवी रोड पर हुई शांति समिति की बैठक में एसएसपी ने कहा कि माहौल बिगाड़ने की कोशिश करने वालों के बारे में पुलिस को तुरंत सूचित करें।

204 अतिसंवेदनशील स्थान चिह्नित 
पुलिस-प्रशासन ने शहर में 204 स्थानों को अतिसंवेदनशील के रूप में चिह्नित किया है। इन स्थानों पर जिस समुदाय के लोगों की संख्या अधिक है, उनको कम संख्या वाले समुदाय की सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गई है। इससे भाईचारा बना रहेगा। 8 नवंबर को शाम 5 बजे से 7 बजे तक आरपीएफ, पीएसी व पुलिस अधिकारी क्षेत्रों में रूट मार्च करेंगे।