चंडीगढ़ः  कांग्रेस की पंजाब इकाई में जारी तनातनी के बीच अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (एआईसीसी) ने शनिवार को राज्य के कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई है. एआईसीसी के महासचिव एवं पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत ने शुक्रवार रात को इस बारे में घोषणा की.


हरीश रावत ने ट्वीट किया, ‘कांग्रेस के अनेक विधायकों ने एआईसीसी से पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक तत्काल बुलाने का अनुरोध किया. इसी क्रम में पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यालय में 18 सितंबर को शाम पांच बजे विधायक दल की बैठक बुलाई गई है. पंजाब कांग्रेस के सभी विधायकों से बैठक में शामिल होने का अनुरोध किया जाता है.’ इस ट्वीट में उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू को भी टैग किया.
राज्यपाल को इस्तीफा देने के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिह ने कहा, मैंने सुबह ही सोनिया गांधी से बातचीत की थी, जिसके बाद मैंने इस्तीफे फैसला ले लिया था.
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, मेरा फैसला आज सुबह हो गया था. मैंने सुबह ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को कह दिया था कि मैं अपने पद से आज इस्तीफा दे रहा हूं. ये तीसरी बार हो रहा है पिछले 2 महीनों में. मैं समझता हूं कि मेरे ऊपर पार्टी आलाकमान को शक है कि मैंने सत्ता नहीं चला पाया. मैं समझता हूं कि मेरा पद से इस्तीफा देना ही सही है. पार्टी अध्यक्ष को जो सही लगेगा वो उन्हें मुख्यमंत्री बनाएंगी.
कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस के विधायक दलों की शाम पांच बजे बैठक होगी और माना जा रहा है कि उसमें नए विधायक दल के नेता का चुनाव किया जा सकता है.
कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद चंडीगढ़ में कांग्रेस विधायक दल की बैठक शुरू हो गई है.
कैप्टन के इस्तीफे के बाद सुनील जाखड़,प्रताप सिंह बाजवा, सुखजिंदर का नाम मुख्यमंत्री की रेस में सबसे आगे चल रहा है. 
विधायक दल की मीटिंग में पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत और दो केंद्रीय पर्यवेक्षक अजय माकन और हरीश चौधरी भी मौजूद हैं.
कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब के नए सीएम के लिए सुनील जाखड़ का नाम सबसे आगे चल रहा है. सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी. जाखड़ पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं. 2012 से 2017 तक पंजाब विधानसभा में नेता विपक्ष रहे. लोकसभा उपचुनाव 2017 में गुरदासपुर से सांसद बने. अबोहर विधानसभा सीट से तीन बार विधायक चुने गए. वे पूर्व लोकसभा स्पीकर बलराम जाखड़ के बेटे हैं. उनकी गिनती पंजाब कांग्रेस के बड़े नेताओं में होती है.
पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने पर हरियाणा के बीजेपी नेता अनिल विज ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस पर तंज़ कसा है. अनिल विज ने ट्वीट किया, "कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद से त्यागपत्र दिया है इसकी पटकथा तो उसी दिन लिख दी गई थी जिस दिन नवजोत सिंह सिद्धू का कांग्रेस में प्रवेश हुआ था क्योंकि जहां-जहां पांव पड़े ‘संतन’ के तहां-तहां बंटाधार."
कांग्रेस विधायक दल की बैठक में आलाकमान सोनिया गांधी को फैसला लेने का अधिकार दिया गया है. सोनिया गांधी जो फैसला लेंगी पार्टी के नेता उसे मानेंगे.