नई दिल्ली: इंटेलिजेंस एजेंसियों पाकिस्तान (Pakistan) के पंजाब (Punjab) प्रांत के नारोवाल जिले में आतंकी ट्रेनिंग गतिविधियों की सूचना मिली है. बता दें सहरदी जिले नारोवाल में ही करतारपुर साहिब (kartarpur sahib) गुरुद्वारा स्थित है. 

खुफिया एजेंसियों के सूत्रों ने कहा कि आतंकवादी प्रशिक्षण शिविर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के मुरीदके, शकरगढ़ और नारोवाल में स्थित हैं. यहां पर पुरुष और महिलाएं प्रशिक्षण ले रहे हैं.  इखलासपुर और शकूरगढ़ में आतंकवादियों की आवाजाही के बारे में इनपुट समय-समय पर प्राप्त होते रहते हैं.
9 नवंबर से करतारपुर कॉरिडोर  (Kartarpur Corridor) का उद्घाटन होने जा रहा है भारत के पंजाब प्रदेश के गुरदासपुर जिले में स्थित डेरा बाबा नानक साहिब को करतारपुर साहिब गुरुद्वारे से जोड़ेगा. 

कॉरिडोर सुबह से लेकर शाम तक खुला रहेगा और सुबह तीर्थयात्रा करने वाले तीर्थयात्रियों को उसी दिन लौटना होगा. कॉरिडोर पूरे साल संचालित होगा, सिर्फ अधिसूचित दिनों को छोड़कर, जिसकी सूचना अग्रिम तौर पर दी जाएगी.

9 नवंबर को इमरान खान पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के नरोवाल जिले में स्थित करतारपुर गलियारे का उद्घाटन करेंगे. भारतीय सीमा के बिलकुल पास स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारे तक श्रद्धालु इस गलियारे के जरिए जा सकेंगे. 

वहीं पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) भी 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) का उद्घाटन करेंगे. पीएम मोदी भारत की तरफ बने नए टर्मिलन पर होने वाले कार्यक्रम में भी पीएम मोदी शामिल होंगे. 

गौरतलब है कि करतारपुर साहिब गुरुद्वारा पाकिस्तान के पंजाब (Punjab) प्रांत के नारोवाल जिले में स्थित है, जोकि डेरा बाबा नानक के समीप सीमा से 4.5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. यह गुरुद्वारा सिखों (Sikhs) के लिए काफी पवित्र है, क्योंकि गुरु नानक देव (Guru Nanak dev) ने अपने जीवन के 18 साल और अपना अंतिम समय भी यहीं बिताया था.