कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए  इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सत्र को बीसीसीआई ने अभी 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित किया हुआ है पर माना जा रहा है कि जिस प्रकार ये महामारी फैल रही है उसको देखते हुए आईपीएल अब जुलाई से सितंबर के बीच आयोजित किया जा सकता है। इसके बाद भी इसका आयोजन तय नहीं कहा जा सकता। आईपीएल की आठों फ्रेंचाइजी टीमों ने भी बीसीसीआई के साथ टेली कॉन्फ्रेंसिंग की थी, पर इसमें भी कोई फैसला नहीं लिया जा सका। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने पहले ही कोरोना वायरस संक्रमण को महामारी घोषित कर दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई इस पर विचार कर रहा है कि आईपीएल को जुलाई से सितंबर के बीच कराया जाए। साल 2009 में आईपीएल दक्षिण अफ्रीका में 37 दिनों के अंदर खेला गया था। यह पांच सप्ताह और दो दिन के अंदर समाप्त हो गया था। अगर स्लॉट मिलता है तो आईपीएल के कुछ मैच भारत और कुछ मैच बाहर खेले जा सकते हैं या फिर टूर्नामेंट को पूरी तरह से बाहर भी कराया जा सकता है। यह भी देखना होगा कि कोरोना वायरस संक्रमण के मामले कितने हैं। 
जुलाई से सितंबर के बीच ज्यादा क्रिकेट मैच नहीं खेले जाने हैं। सितंबर में यूएई में एशिया कप खेला जाना है। एशिया कप के अलावा भारतीय टीम को 2020 आईसीसी टी20 विश्व कप से पहले श्रीलंका के खिलाफ सीमित ओवर की एक सीरीज खेलनी है। 
नुकसान को झेलने तैयार रहें : फिंच
आस्ट्रेलियाई एक दिवसीय टीम के कप्तान आरोन फिंच ने कहा कि कोरोना महामारी जिस प्रकार बढ़ रही है ऐसे में शायद वे लोग आईपीएल नहीं खेल पाये। ऐसे हालत में आईपीएल खेलने वाले सभी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को राजस्व में होने वाले नुकसान को झेलने तैयार रहना चाहिये। आईपीएल नीलामी में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को सबसे ज्यादा रकम मिली थी। अब नहीं खेलने पर खिलाड़ियों को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। फिंच ने कहा कि सभी को इस स्थिति का सामना मिलकर करना होगा। इससे पहले क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने कहा था कि वह आईपीएल के लिये अपने खिलाड़ियों को दिये गये अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) की एक बार और समीक्षा करेगा। इसके अलावा यात्रा प्रतिबंध भी अभी लगाये गये हैं। फिंच ने कहा कि ऐसे में आईपीएल के 15 अप्रैल के बाद में शुरू होने पर भी उसमें आस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों का भाग लेना कठिन हो सकता है। फिंच ने कहा, ‘‘जब आप राजस्व साझा करने के मॉडल का हिस्सा होते हैं तो ऐसे में संगठन के परेशानी में पड़ने पर आप भी प्रभावित होते है। हम समझते हैं कि इसमें हम सब एक साथ है। ’’उन्होंने कहा, ‘‘मुझे पूरा विश्वास है कि लंबे समय में सब कुछ ठीक हो जाएगा पर अभी यह कहना कठिन है कि ऐसा कब होगा। ’’आस्ट्रेलिया के कम से कम 17 क्रिकेटरों का आईपीएल के साथ अनुबंध है। फिंच को आईपीएल में रायल चैलेंजस बेंगलोर से खेलना है। उन्होंने कहा, ‘‘हमने पहले कभी इस तरह की स्थिति का सामना नहीं किया। यात्रा को लेकर सलाह पिछले कुछ घंटो में बदल गयी है। यह दो सप्ताह या तीन सप्ताह में बदल सकती है। कुछ भी योजना बनाना मुश्किल है।