कोरोना वायरस संक्रमण के कारण खेल जगत बेहद प्रभावित हुआ है और तकरीबन सभी खेल बंद हैं। यहां तक कि ऑस्ट्रेलिया की शीर्ष प्रथम श्रेणी लीग शेफील्ड शील्ड के मुकाबले भी  रद्द कर दिये गये हैं। यह दूसरे विश्व युद्ध के बाद पहली बार है जब शेफील्ड शील्ड मुकाबले नहीं हो पाएंगे। ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने कोरोना को महामारी घोषित कर दिये जाने के कारण प्रतियोगिता का अंतिम दौर रद्द कर दिया गया है। इसी को देखते हुए सीए ने 27 मार्च को होने वाले फाइनल पर फैसला टाल दिया है। कोरोना को लेकर स्थिति की भविष्य में समीक्षा के बाद फाइनल के आयोजन पर फैसला किया जाएगा।
वहीं सीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केविन रॉबर्ट्स ने कहा है कि यात्रा की संभावना को कम करने के लिए शील्ड प्रतियोगिता का अंतिम दौर रद्द कर दिया गया है। उन्होंने किहा कि इससे कोरोना वायरस के संक्रमण को कम करने और समाप्त करने में सहायता मिलेगी। केविन ने कहा कि इस तरह के समय में संक्रमण के खतरे को देखते हुए क्रिकेट सबसे अहम नहीं रह जाता। हम पिछले कुछ समय से संबंधित सरकारी एजेंसियों, हमारी मेडिकल टीम और संक्रमण रोग विशेषज्ञ के संपर्क में हैं और यह शेफील्ड शील्ड मुकाबले रद्द करने के फैसले उनकी सलाह पर ही लिए गये हैं। 
सीए प्रमुख ने कहा कि जहां भी संभव हो, वहां लोगों के संपर्क की संभावना कम करके हमें विषाणु के फैलने की संभावना को सीमित करने में मदद करके अपनी भूमिका निभानी है। इस हफ्ते पर्थ के वाका, एडीलेड के केरेन रोल्टन ओवल और मेलबर्न के जंक्शन ओवल में होने वाले तीन मैचों में पहले ही दर्शकों के प्रवेश को प्रतिबंधित किया गया था पर कोरोना को महामारी घोषित किये जाने के बाद मुकाबले रोकने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। सीए इस विकल्प पर भी विचार कर रहा है कि अगर फाइनल नहीं खेला जा सका तो न्यू साउथ वेल्स ब्ल्यूज को खिताब दिया जाए तो अभी लीग तालिका में शीर्ष पर है। 
लंबे समय तक स्थगित हो सकते हैं खेल 
अमेरिका में एनबीए और अन्य बड़ी खेल लीग को लंबे समय तक बंद करना पड़ सकता है। अब तक माना जा रहा था कि कुछ समय के बाद मुकाबले शुरु हो सकते हैं पर अब रोग नियंत्रण केंद्र ने कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए इन्हें लंबे समय तक स्थगित रखने की सलाह दी है। 
नियंत्रण केंद्र ने सुझाव दिया कि खेल स्पर्धाएं और अन्य ऐसे कार्यक्रम जहां बड़ी संख्या में लोग एकत्रित होते हों, उन्हें अगले आठ हफ्तों तक रद्द या स्थगित किया जाए। साथ ही कहा, ‘बड़े कार्यक्रम और बड़ी संख्या में लोगों के एकत्रित होने से इन कार्यक्रमों के लिए आने वाले लोगों के जरिए संक्रमण और फैल सकता है। इससे यह महामारी और बढ़ सकती है।' 
ऐसे में जीवन को सुरक्षित रखने के लिए अगर कुछ समय तक खेलों को आयोजित न किया जाए तो नुकसान नहीं होगा। खेल आयोजनों के दौरान लोगों के साथ ही खिलाड़ियों को भी खतरा बना रहता है।   
स्विस फुटबॉल के प्रमुख भी कोरोना से पीड़ित 
स्विट्जरलैंड फुटबॉल महासंघ के अध्यक्ष डोमिनिक ब्लांक भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गये हैं। इस बारे में स्विस महासंघ ने कहा कि 70 साल के ब्लांक को पॉजिटिव पाये जाने के बाद से ही घर में पृथक कर दिया गया है। वहीं ब्लांक ने महासंघ द्वारा जारी एक बयान में कहा कि मैं अभी अच्छा महसूस कर रहा हूं, बस मुझे फ्लू के कुछ लक्षण हैं। गले में दर्द और हल्की खांसी के बाद उनका परीक्षण कराया गया। महासंघ ने कहा कि बर्न में स्विस मुख्यालय को बंद कर दिया गया है और हाल में उनसे संपर्क में आने वाले स्टाफ को भी चिकित्सीय जांच की सलाह दी गई है।