डोंबिवली। डोंबिवली में ऑटो रिक्शा खड़ा करने को लेकर दो गुटों में हुई मारपीट की घटना के बाद एक गुट के लोगों द्वारा दूसरे गुट के रिक्शा चालक का पहले अपहरण  किया और उसके बाद उसकी बुरी तरह पिटाई करने का मामला प्रकाश में आया है. रिक्शा चालक का नाम बाबा साहब कांबले बताया जा रहा है और  गंभीर रुप से घायल अवस्था में उसे पहले कलवा के अस्पताल में और मुंबई स्थित केईएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है. स्थानीय पुलिस ने मामला दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और आगे की जांच-पड़ताल की जा रही है. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार देर रात रिक्शा खड़ी करने को लेकर बीजेपी और आरपीआई प्रणित रिक्शा युनियन के दो गुटों में जमकर हाथापाई हुई. इस घटना के बाद कुछ लोग बाबा साहब कांबले नामक रिक्शा चालक को रिक्शा में डालकर एक सुनसान जगह पर ले गए और बेल्ट और राड से जमकर पिटाई की. गंभीर रूप से घायल रिक्शा चालक कांबले को पहले डोंबिवली के शास्त्रीनगर अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन हालत गम्भीर होने के कारण डाक्टरों ने कलवा भेज दिया गया. परिजनों के अनुसार रिक्शा चालक बाबासाहब कोमा है और फिलहाल उसे कलवा से मुंबई के केईएम अस्पताल में ले जाया गया है. डोंबिवली पुलिस ने भाजपा प्रणित रिक्शा युनियन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार किया है और आगे की जांच-पड़ताल की जा रही है।