झाबुआ.  झाबुआ(Jhabua) विधानसभा सीट उपचुनाव ( assembly by election) में कांग्रेस प्रत्याशी (congress) कांतिलाल भूरिया (kantilal bhuria) की शुरुआती कई राउंड में लगातार बढ़त देख समर्थकों की खुशी छलछला उठी. जीत (victory) से पहले ही उन्होंने जश्न (celebration) शुरू कर दिया. कांतिलाल भूरिया ने भी मतदाताओं का आभार प्रकट कर दिया. हालांकि वो अपने बूथ पर बीजेपी प्रत्याशी भानु भूरिया से हार गए.

समर्थक झूमे
झाबुआ विधानसभा सीट उप चुनाव में काउंटिंग के कुल 26 राउंड हैं. शुरुआती 8 राउंड तक कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया अपने निकटतम प्रतिद्नंद्वी बीजेपी के भानु भूरिया से लगातार बढ़त बनाए रहे, तो कांग्रेस में खुशी की लहर दौड़ पड़ी. समर्थक पटाख़े और फूल मामला लेकर आ गए. कांतिलाल का स्वागत किया और नाच-गाना शुरू कर दिया. जीत की उम्मीद में हो रहे इस जश्न में कलावती भूरिया भी शामिल हुईं.
मंत्री पद की आस


फूल माला से लदे कांतिलाल भूरिया की खुशी उनकी मुस्कान बयां करने लगी. वो बोले जेवियर मेडा ने भी चुनाव में सहयोग दिया. भूरिया यहां तक कह गए कि मुख्यमंत्री कमलनाथ जेवियर मेडा को भी सम्मानजनक पद देंगे. मतगणना पूरी होने या चुनाव परिणाम आने से पहले ही कांतिलाल भूरिया ने झाबुआ के मतदाताओं का आभार भी जता दिया और कहा अब सीएम तय करेंगे उनका मंत्री पद. कांतिलाल भूरिया बीजेपी पर तंज कसना नहीं भूले. वो बोले अब शिवराज सिंह चौहान किस मुंह से झाबुआ आएंगे.
कल्याणपुरा का आभार
कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया को झाबुआ विधान सभा क्षेत्र के कल्याण पुरा में भी बढ़त मिली.वो बीजेपी का अयोध्या कहे जाने वाले कल्याणपुरा में भी सेंध लगाने में कामयाब रही. शुरुआती रुझानों में ही कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया ने कल्याणपुरा सेक्टर में निर्णायक बढ़त बना ली. पिछले चुनाव में बीजेपी को कल्याणपुरा में 9000 वोट की लीड मिली थी. लोकसभा चुनाव में भी बीजेपी यहां 5000 वोट से आगे रही थी. कल्याणपुरा के प्रभारी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा थे. कांतिलाल भूरिया ने मतदाताओं के साथ उनका भी आभार व्यक्त किया.
अपने बूथ से हारे कांतिलाल
ये भी अजब इत्तेफाक़ है कि कांतिलाल भूरिया अपने ही बूथ से हार गए.मतदान केंद्र क्रमांक 93 में उन्होंने वोट डाला था. लेकिन गोपाल कॉलोनी के इस क्षेत्र से भूरिया हार गए. इस बूथ पर उन्हें  175 वोट मिले जबकि बीजेपी के भानु भूरिया को 214 वोट लेकर उनसे आगे रहे.