बेंगलुरु । बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता के ईडन गार्डन में होने वाले दिन-रात्रि के पहले टेस्ट के लिए भारतीय टीम ने तैयारियों शुरु कर दी हैं। इसी के तहत  चेतेश्वर पुजारा, सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल सहित भारतीय टेस्ट टीम के खिलाड़ियों ने दिन-रात्रि टेस्ट के लिए गुलाबी गेंद से यहां अभ्यास किया। भारतीय टीम बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता के ईडन गार्डन में 22 नवंबर से अपना पहला दिन-रात्रि टेस्ट मैच खेलेगी। पुजारा और मयंक के अलावा उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे, हरफनमौला रवींद्र जडेजा और हनुमा विहारी के साथ-साथ तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और ईशांत शर्मा ने भी राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) की नेट पर गुलाबी गेंद से अभ्यास किया। ये अनुभवी खिलाड़ी पिछले कुछ दिनों से एनसीए के निदेशक और पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ की देखरेख में एनसीए में अभ्यास कर रहे है। ये सभी खिलाड़ी सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट में नहीं खेल रहे है। गुलाबी गेंद से अभ्यास से खिलाड़ियों को दिन-रात्रि टेस्ट में आने वाली परेशानियों का अनुभव होगा। दिन-रात्रि के मैच में गेंदबाजों को रिवर्स स्विंग और स्पिन पर नियंत्रण रखना होता है। वहीं कप्तान विराट कोहली भी जल्द ही टेस्ट टीम के खिलाड़ियों के साथ जुड़ेंगे।