भोपाल. कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के हालात में एक मां और उसकी चार माह की बेटी के लिए जीआरपी (GRP)आरक्षक इंदर सिंह यादव (Inder singh yadav) फरिश्ता (Angel) बनकर आए.ट्रेन (train) में सफर के दौरान दूध (milk) ना मिलने के कारण बच्ची भूख से बिलख रही थी.भोपाल स्टेशन (bhopal station) पर मजबूर मां ने यहां तैनात GRP जवान इंदर सिंह से मदद की गुजारिश की और इंदर सिंह फौरन मदद के लिए दौड़ पड़े.ये वीडियो अब वायरल हो रहा है. ट्रेन चल पड़ी थी और इंदर सिंह एक हाथ में राइफल और दूसरे में दूध का पैकेट लिए बच्ची के पास पहुंचने के लिए भाग रहे थे.मां ने धन्यवाद देते हुए कहा- आप हमारी लाइफ के रियल हीरो हैं. आप जैसे लोगों की देश में बहुत जरूरत है.

भूखी थी चार माह की बच्ची

श्रमिक स्पेशल ट्रेन से महिला हसीन हाशमी अपने पति और 4 महीने की बिटिया के साथ बेलगाम(कर्नाटक)से गोरखपुर जा रही थीं. रास्ते में दूध खत्म हो गया औऱ किसी स्टेशन पर दूध नहीं मिला. भूख से बिलख रही बच्ची को मजबूर मां पानी में बिस्किट घोलकर पिला रही थी.भोपाल स्टेशन पर ट्रेन के पहुंचते ही हसीन हाशमी की नज़र प्लेटफार्म पर ड्यूटी पर तैनात जीआरपी आरक्षक इंदर सिंह पर पड़ी. उन्होंने जवान से अपनी परेशानी बतायी और मदद मांगी. 

बिलख रही थी बच्ची

दूध के बिना बच्ची भूख से बिलख रही थी.इंदर सिंह फौरन मदद के लिए भागे. स्टेशन पर दूध नहीं था.इसलिए वो फौरन स्टेशन के बाहर बनी दुकानों की ओर भागे. जब तक वो दूध लेकर लौटे ट्रेन चल पड़ी थी. ये देख इंदर सिंह हड़बड़ा गए. उन्हें लगा बच्ची फिर भूखी रह जाएगी. वो उसकी मां तक पैकेट पहुंचाने के लिए चलती ट्रेन के साथ साथ दौड़ पड़े. एक हाथ में राइफल और दूसरे में दूध का पैकेट लिए वो भागते रहे. इंदर ने हार नहीं मानी और राइफल संभालते हुए तेज़ रफ़्तार के साथ बोगी की तरफ बढ़ते चले गए.और ट्रेन फ्लेटफॉर्म छोड़ पाती उससे पहले ही लपक कर वो बोगी तक पहुंच गए. उन्होंने दूध का पैकट हसीन हाशमी को दिया और ट्रेन ने प्लेटफॉर्म छोड़ दिया

सीसीटीवी कैमरे में तस्वीर कैद

जीआरपी आरक्षक इंदर सिंह यादव रेलवे स्टेशन पर तेज रफ्तार से दौड़ रहे थे.तो वहां मौजूद लोग माजरा समझ नहीं पाए.जवान के ट्रेन की तरफ आगे बढ़ते दौड़ते राइफल संभालते मदद पहुंचाने की जद्दोजहद सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है. मानवता के नाते बच्ची तक मदद पहुंचाने के लिए अब अधिकारी भी उनकी पीठ थपथपा रहे हैं.

मां ने कहा यही है रियल हीरो

महिला हसीन हाशमी अपने घर आलमपुर (उत्तर प्रदेश) बेटी और पति के साथ सकुशल पहुंच गई हैं.अपने घर पहुंचकर उन्होंने वहां से वीडियो जारी कर आरक्षक इंदर सिंह का शुक्रिया अदा किया. धन्यवाद देते हुए हसीन ने कहा कि आप हमारी लाइफ के रियल हीरो हैं और आप जैसे लोगों की देश में बहुत जरूरत है.आपने  ट्रेन रवाना होने से पहले बच्ची की मदद की..आपकी मदद से ही मेरी बच्ची मेरे साथ सकुशल घर लौट सकी है.