मुंबई । मुम्बई शेयर बाजार में बुधवार को गिरावट आई है। इसी के साथ ही पिछले दस दिनों से जारी तेजी थम गयी है। बुधवार को सेंसेक्स 264 अंक नीचे आया। बाजार में यह गिरावट भारी  मुनाफावसूली के साथ ही रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी और इन्फोसिस की के शेयरों में हुई बिकवाली से आयी है। दिन भर के कारोबार के बाद तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 48,616.66 अंक तक ऊपर जाने के बाद 263.72 अंक करीब 0.54 फीसदी की गिरावट के साथ 48,174.06 अंक पर बंद हुआ। वहीं इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 53.25 अंक तकरीबन 0.38 फीसदी की गिरावट के साथ 14,146.25 अंक पर बंद हुआ हालांकि कारोबार के दौरान एक समय यह 14,244.15 अंक तक की रिकार्ड ऊंचाई तक चला गया था। सेंसेक्स के शेयरों में सबसे अधिक नुकसान आईटीसी को हुआ। इसमें करीब 3 फीसदी की गिरावट आयी। इसके अलावा जिन प्रमुख शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी, उनमें रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज फाइनेंस, एक्सिस बैंक, एचयूएल और एचसीएल टेक शामिल हैं। वहीं दूसरी तरफ जिन शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी, उनमें पावर ग्रिड, भारती एयरटेल, ओएनजीसी और अल्ट्राटेक सीमेंट शामिल हैं। जानकारों के अनुसार घरेलू शेयर बाजारों में उतार-चढ़ाव और सुधार का मुख्य कारण अमेरिका में दो सीनेट सीटों का परिणाम डेमोक्रेट्स के पक्ष में जाना है क्योंकि ‘सीनेट में डेमोक्रेट्स का नियंत्रण होने से अमेरिका में निम्न कर की दर की स्थिति बदल सकती है। इससे बाजार में उतार-चढ़ाव आ सकता है।