ग्वालियर । दीपावली महापर्व के साथ ही मध्यप्रदेश में ठंडी ने असर दिखाना शुरू कर दिया है। प्रदेश के बैतूल और ग्वालियर में शनिवार को न्यूनतम तापमान 14 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। यह इस वर्ष का पहला सबसे ठंडा दिन है। इसके अलावा प्रदेश के कुछ इलाकों में हल्की बारिश भी दर्ज की गई। पिछले तीन दिनों में तापमान में 6-7 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश का अनुमान जताया है। 
मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, बीते 24 घंटों के दौरान जबलपुर, इंदौर एवं होशांगाबाद संभाग के कुछ जिलों में हल्की बारिश दर्ज की गई है। इन 24 घंटों में रीवा, शहडोल, सागर उज्जैन एवं ग्वालियर संभाग के  अधिकांश जिलों में तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई है। सबसे कम न्यूनतम तापमान बैतूल में 14.0 और ग्वालियर 14.2 डिग्री दर्ज किया गया है। मध्यप्रदेश के अधिकांश हिस्सों पर बादलों का डेरा बना हुआ है। कुछ स्थानों पर हल्की बारिश भी हुई है। विभाग ने आगामी दिनों में तापमान में और कमी आने की संभावना जताई है। विभाग ने बताया कि हवाओं के बदले रुख से प्रदेश में ठंड अचानक बढ़ गई है। पिछले तीन दिनों से यह सिलसिला चल रहा है। 
मौसम विभाग के अनुसार, छिंदवाड़ा, जबलपुर, मंडला, बालाघाट, नरसिंहपुर, सिवनी, कटनी, होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, धार, इंदौर, खंडवा, खरगौन, अलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी, बुरहानपुर जिलों में अगले 24 घंटे में हल्की बारिश हो सकती है। अन्य क्षेत्रों में मौसम सामान्य रहेगा।