खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने गुरुवार को टी.टी. नगर स्टेडियम में प्रदेश के जिला खेल अधिकारियों की बैठक में प्रांतीय ओलम्पिक, विधायक कप तथा जिलों में फीडर सेन्टर की आवश्यकता की समीक्षा की। श्री पटवारी ने कहा कि अधिकारी लक्ष्य आधारित काम करें। सभी सौंपे गए दायित्वों का कुशलतापर्वूक निर्वहन करें। मुस्तैदी और गंभीरता के साथ विभागीय योजनाओं का क्रियान्वयन करें। काम को आधार बनाएं। अच्छा काम करने वाले अधिकारी रिवार्ड और खराब परफॉर्मेंस वाले अधिकारी पनिशमेंट के लिये तैयार रहें।

प्रांतीय ओलम्पिक खेल

मंत्री श्री जीतू पटवारी ने प्रांतीय ओलम्पिक खेलों का व्यवस्थित रूप से आयोजन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य प्रदेश में खेलों के प्रति युवाओं में जागरूकता पैदा करना, खेल को सर्वसुलभ बनाना तथा प्रतिभावान खिलाड़ियों की पहचान कर उन्हें आधुनिक सुविधा और प्रशिक्षण प्रदान करना है। इसके लिए हर जिला खेल अधिकारी को जिला शिक्षा अधिकारी से समन्वय स्थापित कर स्कूल स्पोर्टस नर्सरी बनाने के लिए काम करना होगा। प्रांतीय ओलम्पिक की प्रतियोगिताएँ जिला स्तर पर 14 नवम्बर तथा संभाग स्तर पर 15 से 20 नवम्बर तक होगी। राज्यस्तरीय खेल दो चरण में 23 से 29 नवम्बर तक होंगे।

विधायक कप

मंत्री श्री पटवारी ने विधायक कप के आयोजन की चर्चा करते हुए कहा कि विधानसभा स्तर पर विधायक कप में कम से कम 50 टीमें (बालक 25/बालिका 25) भाग ले सकें, ऐसे खेलों को चुनें। उन्होंने कहा कि पहले पाँच जिले, जो विधायक कप में 50 टीम बनाकर प्रतियोगिता कराएँगे, उन्हें अतिरिक्त रूप से दो लाख रुपये की राशि बढ़ाकर दी जायेगी। विधायक कप के आयोजन के लिए एक लाख रुपये की राशि दी जाती है।

श्री पटवारी ने जिला खेल अधिकारियों से जिलों में प्रस्तावित फीडर सेन्टर में खेलों पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि फीडर सेन्टर का सही संचालन हो, इसका ध्यान रखा जाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि जिन जिलों में फीडर सेन्टर की आवश्यकता हो, उसकी कार्य-योजना जल्द तैयार कर प्रस्तुत करें। साथ ही फीडर सेन्टर के लिए प्रशिक्षकों को प्रशिक्षण दिए जाने के भी निर्देश दिए।

इंदौर में स्विमिंग पूल के प्रथम चरण का निर्माण कार्य मार्च तक होगा पूर्ण

खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने इंदौर में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के स्वीमिंग पूल के निर्माण कार्यों की समीक्षा की। संचालक डॉ. एस.एल. थाउसेन ने जानकारी दी कि स्वीमिंग पूल के प्रथम चरण का कार्य मार्च माह तक पूर्ण कर लिया जायेगा। बैठक में इंदौर विकास प्राधिकरण (आईडीए) ने स्वीमिंग पूल के चरणबद्ध निर्माण कार्य का प्रेजेंटेशन भी दिया।