पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी किसान अगर यूपी से हैं तो आज आपके पास अपने डाक्यूमेंट्स में सुधार का आखिरी मौका है। अगर आप चाहते हैं कि 10वीं किस्त न रुके या रुकी हुई किस्त मिल जाए तो आज 'पीएम किसान समाधान दिवस में जरूर जाएं। प्रत्येक विकास खंडों के बीज गोदामों पर लगे कैंप का आज आखिरी दिन है। अगर आपके आधार में दर्ज नाम की स्पेलिंग आपके पीएम किसान के रिकॉर्ड से मैच नहीं करती है तो आपकी दिसंबर-मार्च की किस्त रुक जाएगी या रोक दी गई होगी। अगर आपका आधार ऑथंटिकेशन नहीं है तब भी आपकी किस्त मिलने के आसार कम हैं।

पीएम किसान पोर्टल पर दिए गए ताजा आंकड़ों की बात करें तो उत्तर प्रदेश में कुल 28144408 किसान इस योजना में रजिस्टर्ड हैं। इसमें से अगस्त-नवंबर की किस्त के लिए राज्य सरकार ने 23017400 किसानों का RFT Sign किया और FTO Genrate हुआ 23016861 किसानों का। यानी करीब 51 लाख से अधिक ऐसे किसान हैं, जिनको किस्त अब तक नहीं मिली है। 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना से जुड़े लाखों किसान, जो उत्तर प्रदेश के हैं और उनकी किस्त किसी कारण से रुकी हुई है, उनके लिए उत्तर प्रदेश कृषि विभाग राज्य के सभी जिलों में 11 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक 'पीएम किसान समाधान दिवस' आयोजित कर रहा है। इस दौरान समाधान दिवस पर मुख्य रूप से इनवैलिड आधार और आधार के अनुसार नाम सही कराया जा रहा है।