भुवनेश्वर । ओलंपिक क्वॉलिफायर्स मुकाबला खेलने यहां पहुंची अमेरिका की महिला हॉकी टीम बेहद उत्साहित है। दोनो के बीच यह मुकाबला एक और दो नवम्बर को भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में खेला जाएगा। अमेरिकी टीम की कप्तान कैथलीन शार्की ने भारत में एक बड़ा इवेंट खेलने पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि भारत में खेलना रोमांचक है। इस टीम में कोई भी खिलाड़ी पहले कभी भारत में नहीं खेली है। हमें ओलंपिक क्वॉलिफायर्स का बेसब्री से इन्तजार है। भारतीय टीम का आखिरी बार अमेरिका से मुकाबला 2018 के महिला विश्व कप में हुआ था जहां भारत ने 1-1 का ड्रॉ खेला था। ओलंपिक क्वॉलिफायर्स में दो मैच होंगे, जिसमें अंकों के आधार पर फैसला होगा कि कौन सी टीम अगले साल टोक्यो ओलंपिक में खेलेगी। अमेरिकी महिला टीम की रैंकिंग 13 जबकि भारतीय महिला टीम की रैंकिंग नौ है, लेकिन रानी रामपाल की अगुआई वाली टीम के लिए यह मुकाबला आसान नहीं होगा। वहीं दूसरी ओर भारतीय पुरुष हॉकी टीम को टोक्यो ओलंपिक क्वॉलिफायर के अंतिम दौर में आसान ड्रॉ मिला है, जहां उसे कम रैंकिंग वाली रूस की टीम से खेलना है जबकि महिला टीम को अमेरिका के रूप में कड़ा प्रतिद्वंद्वी मिला है। टोक्यो खेलों में जगह बनाने के लिए टीमों के बीच लगातार दो मैच होंगे। भारतीय पुरुष टीम एक और दो नवंबर को रूस से खेलेगी जबकि महिला टीम दो और तीन नवंबर को भुवनेश्वर में अमेरिका से खेलेगी।