कोरबा कोरबा में कामरेड नवरंग लाल को समर्पित उपन्यास “कामरेड आप कहां हो” का विमोचन आज एक सादे समारोह में एक सामान्य मजदूर भरत लाल बरेठ द्वारा किया गया। आज अंचल के लोकप्रिय मजदूर नेता कामरेड नवरंग लाल की 22 वी पुण्यतिथि अंचल में श्रद्धा और समर्पण के भाव के साथ मनाई गई इस दरमियान संपादक गांधीवादी लेखक सुरेशचंद्र रोहरा द्वारा लिखित उपन्यास कामरेड आप कहां हो का विमोचन स्थानीय सीतामढ़ी बस्ती में रहने वाले और मजदूरी करके अपनी आजीविका चलाने वाले भरत लाल के आतिथ्य में किया गया।
   कार्यक्रम में अध्यक्षता करते हुए वरिष्ठ साहित्यकार विशेश्वर शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि कामरेड नवरंग लाल पर उपन्यास लिखा जाना अपने आप में एक इतिहास है यह एक महत्वपूर्ण कार्य है कामरेड नवरंग लाल के योगदान का मूल्यांकन भी होना चाहिए।पुस्तक के लेखक सुरेश चंद्र रोहरा ने कहा कि कामरेड मजदूरों के किसानों और श्रमिकों के नेता थे ऐसे में एक मजदूर के द्वारा पुस्तक के विमोचन पर मुझे हार्दिक प्रसन्नता हुई है।
    कार्यक्रम अतिथि के रूप में नवरंग लाल के लघु भ्राता राम सिंह अग्रवाल, सुपुत्र शिवशंकर अग्रवाल भी उपस्थित थे।