मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ आज श्री गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर हमीदिया रोड स्थित नानकसर गुरुद्वारा पहुंचे। श्री कमल नाथ ने पवित्र श्री गुरु ग्रंथ साहिब के समक्ष मत्था टेका और देश तथा प्रदेश की समृद्धि एवं सर्वधर्म समभाव की अरदास की।
मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ का हमीदिया रोड गुरुद्वारा के मुख्य ग्रंथी ज्ञानी गुरुदेव सिंह ने शाल भेंट कर सम्मान किया।  गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष सरदार परमवीर सिंह वज़ीर ने मुख्यमंत्री को स्मृति चिन्ह भेंट किया।
गुरुद्वारा कमेटी के सचिव अमरीक सिंह ने मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ द्वारा श्री गुरूनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को मनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा लिए गए ऐतिहासिक निर्णयों पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश के इतिहास में यह पहली बार हुआ है, जब श्री गुरूनानक देव जी के प्रकटोत्सव पर प्रदेश के सभी शासकीय भवनों पर रोशनी की जा रही है। मुख्यमंत्री के इस निर्णय पर भी प्रसन्नता व्यक्त की गई कि जबलपुर में श्री गुरूनानक देव जी की स्मृति में 20 करोड़ रूपये की लागत से संग्रहालय एवं शोध संस्थान की स्थापना की जा रही है। इस मौके पर सिख समाज के लिये निरंतर लिये जा रहे निर्णयों और कार्यों को लेकर मुख्यमंत्री का सिख समाज की ओर से आभार भी माना गया।
जनसम्पर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा एवं मीडिया समन्वयक श्री नरेन्द्र सलूजा का भी हमीदिया गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से शाल भेंट कर सम्मान किया गया और स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में सिख समाज एवं अन्य समाजों के नागरिक उपस्थित थे।