मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि किसानों की आय बढ़ाने और कृषि क्षेत्र में उन्नति लाने के लिए व्यापक सुधार कार्यक्रम शुरु किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि गन्ना उत्पादक किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए नई नीति बनाई जाएगी। श्री कमल नाथ आज नरसिंहपुर में 70 करोड़ रूपये लागत के विकास कार्यों के लोकार्पण और भूमिपूजन के बाद विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। 
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश में किसानों की क्रय शक्ति बढ़े और उनकी आय दोगुनी हो, इसके लिए कृषि क्षेत्र में एक नई क्रांति की आवश्यकता है। सरकार इस दिशा में ठोस कदम उठाने जा रही है। जय किसान फसल ऋण माफी योजना के जरिए हमने किसानों को राहत पहुंचाने का प्रयास किया है। अभी तक 21 लाख किसानों के फसल ऋण माफ किए जा चुके हैं। इनमें 20 हजार 322 किसान नरसिंहपुर जिले के हैं। श्री कमल नाथ ने कहा कि हमारी कृषि ऋण माफी योजना की प्रक्रिया जारी है। योजना के द्वितीय चरण में शेष किसानों की ऋण माफी की जा रही है। 
मुख्यमंत्री ने प्रदेश की आर्थिक स्थिति का उल्लेख करते हुए कहा कि जब शासन की बागडोर उनके हाथों में आई, तब सरकार का खजाना खाली था। किसान, नौजवान सहित समाज के हर वर्ग में हताशा का माहौल था। उद्योग सहित विकास के अन्य क्षेत्रों में निवेश की कमी थी, विश्वास की कमी थी और क्रियान्वयन की भी कमी थी। पिछले दस माह में हमने बत्तर हालातों को पटरी पर लाने के लिए अथक प्रयास किए हैं। अब सकारात्मक बदलाव प्रदेश के लोग महसूस कर रहे हैं। हमने जो विश्वास पिछले महीने में पैदा किया, उससे निवेशकों की प्रदेश में दिलचस्पी बड़ी है। निवेश बढ़ाकर हम नौजवानों को रोजगार उपलब्ध कराएंगे ताकि उनका भविष्य बेहतर और सुरक्षित हो सके। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि नरसिंहपुर से उनका गहरा आत्मीय लगाव रहा है। उन्होंने बताया कि जब वे केन्द्र सरकार में मंत्री थे, तब उन्होंने नरसिंहपुर के विकास के लिए अनेक परियोजनाओं को स्वीकृति दी थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज जो भी अपेक्षाएँ नरसिंहपुरवासियों की है, उन्हें पूरा किया जाएगा।
विधानसभा अध्यक्ष श्री नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने कहा कि जब भी वे नरसिंहपुर जिले के विकास के लिए मुख्यमंत्री से चर्चा करते हैं, तो पता चलता है कि पूर्व से ही उनके पास इस जिले के विकास का ब्लूप्रिंट रहता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का इस क्षेत्र के प्रति जो लगाव है, उससे शीघ्र ही जिले में विधि महाविद्यालय, कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय, बिलथरी-कोठारी नर्मदा नदी पर पुल, डोभी में 30 बिस्तरीय अस्पताल, तेंदूखेड़ा से सहजपुरा का 17 किलोमीटर सड़क का निर्माण, इंडोर और क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण भी शीघ्र पूरा होगा। 
वित्त मंत्री श्री तरुण भनोट, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री तुलसी राम सिलावट और पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री सुरेश पचौरी ने भी सभा को संबोधित किया। कार्यक्रम में सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया, अन्य जन-प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री ने इस मौके पर नर्मदा नदी पर निर्मित उच्चस्तरीय केर पानी पुल, नर्मदा शॉपिंग कॉम्पलेक्स, एस्ट्रोटर्फ, हॉकी स्टेडियम, केन्द्रीय जेल के निर्माण कार्यों एवं एनएच-26 से बरमानखुर्द तक सीसी रोड का भूमिपूजन किया। मुख्यमंत्री ने सरकार की विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किए।