रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कांग्रेस (Congress) सरकार की गांधी विचार पदयात्रा (Gandhi Vichar Padyatra) के पहले चरण का समापन गुरुवार को हुआ. कंडेल से शुरू हुई इस 72 किलोमीटर की पदयात्रा का रायपुर (Raipur) के गांधी मैदान में आकर खत्म हुई. बता दें कि पदयात्रा के सातवें दिन सेजबहार से शुरू ये रैली डूंडा तक पहुंची. कांग्रेस की ये रैली सेजबहार से डूंडा, संतोषीनगर, कालीबाड़ी होते हुए गांधी मैदान पहुंची. गांधी मैदान में सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने सभा को संबोधित किया. इस दौरान पीसीसी चीफ मोहन मरकाम सहित भारी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता मौजूद रहे. सभी को संबोधित करते हुए सीएम बघेल ने बीजेपी (BJP) पर जमकर निशाना साधा.

अब ब्लॉक स्तर पर होगी पदयात्रा की शुरुआत

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि आज पदयात्रा का समापन नहीं हुआ है, बल्कि कल से ब्लॉक स्तर पर इसकी शुरुआत होगा. उन्होंने कहा कि गांधी जी के विचारों को जन-जन तक पहुंचाना हमारा कर्तव्य है. सीएम बघेल ने कहा कि गांधी जी को अंग्रेजों की कमजोरी मालूम थी. वे जानते थे कि अंग्रेजों की कमजोरी कहां है. उन्होंने कमजोरी पर चोट करने के लिए असहयोग आंदोलन की शुरुआत की.
बीजेपी पर साधा निशाना

विपक्ष पर निशाना साधते हुए सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि आज देश में बहुत चर्चाएं चल रही हैं. जिन्होंने आज़ादी के आंदोलन में कभी भाग ही नहीं लिया, वे प्रमाण पत्र बांट रहे हैं, वे आज राष्ट्रवाद, राष्ट्रीयता पर चर्चा कर रहे हैं. जिन्होंने कुछ किया नहीं वे सबसे ज्यादा चर्चा कर रहे हैं. सीएम बघेल ने कहा कि बीजेपी के राज में असहमति को स्थान नहीं दिया जाता है. बीजेपी प्रभावित है हिटलर के विचारधारा से, उनके राज में खत्म हो या खत्म करो का राष्ट्रवाद चलता है.
सीएम बघेल ने कसा तंज

बीजेपी पर तंज कसते हुए सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि बीजेपी गांधीवादी बनने का ढोंग कर रही है. वे गोड़से को मानते हैं, जिस व्यक्ति ने गांधी की हत्या की उस व्यक्ति के विचारधारा पर बीजेपी चल रही है. सीएम बघेल ने कहा कि गांधी के देश में गोडसे की विचारधारा नहीं चल सकती.