दोहा ।  फर्राटा धाविका निया अली के अंतिम दिन 100 मीटर बाधा दौड़ में खिताब जीतने के साथ ही अमेरिका  यहां समाप्त हुई विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में शीर्ष पर पहुंच गया है। अमेरका के कुल पदकों की तादाद तीन हो गयी है। निया ने खलीफा स्टेडियम में 12.34 सेकेंड का समय निकालकर विश्व रिकार्डधारक केनी हैरिसन को पछाड़ा। दो बच्चों की मां 30 वर्षीय निया ने कहा, ‘‘मैंने बच्चों के जन्म के बाद कड़ी मेहनत की थी। इन महिलाओं (प्रतिद्वंद्वियों) ने प्रतिस्पर्धा का स्तर बढ़ा दिया था, इसलिए मैं जानती थी कि मुझे क्या करना है।’’ अमेरिका ने अंतिम दिन कुल तीन स्वर्ण पदक जीते और वह चैंपियनशिप में कुल 14 स्वर्ण, 11 रजत और चार कांस्य पदक लेकर शीर्ष पर रहा। अमेरिका ने दिन के दो अन्य स्वर्ण पदक महिला और पुरुष दोनों वर्ग की चार गुणा 400 मीटर रिले दौड़ में जीते। वहीं अफ्रीकी टीम कीनिया दूसरे स्थान पर रही। उसने पांच स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य पदक हासिल किये। जमैका तीन स्वर्ण, पांच रजत और चार कांस्य पदक सहित तीसरे स्थान पर रहा। चीन ने तीन स्वर्ण सहित नौ पदक जीते और उसे चौथा स्थान मिला।