लंदन: आईसीसी क्रिकेट विश्व कप और एशेज सीरीज के बाद इंग्लैंड क्रिकेट में बदलाव का दौर आ गया है. इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने क्रिस सिल्वरवुड (Chris Silverwood) को पुरुष टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया है. सिल्वरवुड इससे पहले टीम के गेंदबाजी कोच थे और अब उन्हें सभी प्रारूपों के लिए मुख्य कोच नियुक्त किया गया है. सिल्वरवुड पूर्व कोच ट्रेवर बेलिस (Travis Bellis) की जगह लेंगे.

बेलिस ने जिताया था विश्व कप
बेलिस के मार्गदर्शन में इंग्लैंड ने इस साल जुलाई में पहली बार विश्व कप खिताब जीता है. बेलिस ने ऑस्ट्रेलिया के साथ एशेज सीरीज के 2-2 से ड्रॉ रहने क बाद इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने पद छोड़ने की घोषणा पहली ही कर दी थी. अभी हाल ही में वे आईपीएल फ्रेंचाइजी सनराइजर्स हैदराबाद के कोच नियुक्त किए गए हैं.

ये दिग्गज भी थे कोच के पद के दावेदार
इससे पहले ऐसी खबरें आ रही थीं कि भारत और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कोच गैरी कर्स्टन इंग्लैंड के कोच बनने की दौड़ में सबसे आगे हैं, लेकिन सिल्वरवुड ने कोच के लिए हुए साक्षात्कार के बाद कर्स्टन को पीछे छोड़ते हुए यह पद हासिल किया. एश्ले जाइल्स की अध्यक्षता वाली ईसीबी की चयन समिति ने इंटरव्यू प्रक्रिया के बाद निर्विरोध रूप से सिल्वरवुड को टीम का मुख्य कोच नियुक्त कर लिया. चयन समिति में मुख्य कार्यकारी टॉम हैरिसन और जॉन नील भी शामिल थे.

पहली सीरीज होगी न्यूजीलैंड के खिलाफ
44 वर्षीय सिल्वरवुड ने 1996 से 2002 तक इंग्लैंड के लिए छह टेस्ट और सात वनडे मैच खेले हैं. उन्हें 2017 के आखिर में इंग्लैंड का गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया था. सिल्वरवुड की पहली प्रतिस्पर्धी सीरीज इंग्लैंड का न्यूजीलैंड दौरा होगी, जिसमें एक नवंबर से शुरू होने वाली पांच मैचों की टी-20 सीरीज के अलावा दो टेस्ट मैचों की भी खेली जाएगी. यह सीरीज आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप का हिस्सा नहीं होगी. 

क्या कहा सिल्वरवुड ने
सिल्वरवुड ने कहा, "पिछले पांच साल में जो शानदार काम हुआ है, मैं उसे आगे बढ़ाऊंगा. भविष्य में, खासकर टेस्ट क्रिकेट को और मजबूत करने की कोशिश की जाएगी." उन्होंने कहा, "मैं अपनी नई भूमिका को लेकर रोमांचित हूं. काफी प्रतिभा सामने आ रही है और इसमें प्रगति की काफी क्षमता है. कड़ी मेहनत अब शुरू होगी और मुझे यकीन है कि न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका के अपने सर्दियों के दौरे पर हम सकारात्मक प्रभाव छोड़ पाएंगे."