दुर्ग
बाल संप्रेक्षण गृह में अपचारी बालकों को नशे का सामान मुहैया कराने वाले 3 युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ में इन युवकों ने स्वीकार किया है कि वे बच्चों को नशे का सामान उपलब्ध कराते हैं। तीनों युवकों के खिलाफ पहले भी कई गंभीर मामलो के अपराध दर्ज है। एक युवक के पास से पुलिस ने चाकू भी बरामद किया है। तीनों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर पुलिस ने उन्हें जेल भेज दिया है। पुलगांव स्थित बाल संप्रेक्षण गृह में रखे गए अपचारी बालकों द्वारा दो दिन पहले गृह में उत्पात मचाया गया था। इस दौरान उनके द्वारा यहां अधिकारियों व कर्मचारियों की मौजूदगी में तोडफोड़ भी की गई थी। जिसके बाद 4 अपचारी बालक भाग गए थे। इनमें से एक बालक के वापस आ जाने की जानकारी मिली है। वहीं तीन अभी भी फरार हैं। घटना के दौरान उत्पाती बच्चों के नशे की हालत में होने की जानकारी सामने आई थी।
बाल संप्रेक्षण गृह के सुरक्षा घेरे में सेंध लगाकर कौन बच्चों को नशे की सामग्री उपलब्ध करा रहा है,इसकी पड़ताल की जा रही थी। पुलिस के जवान सादी वर्दी में यहां नजर रखे हुए थे। इसी दौरान तीन युवक गृह के आसपास संदिग्ध रुप से घूमते मिले। इन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो इन्होंने संप्रेक्षण गृह के बच्चों को नशे का सामान मुहैया कराना स्वीकारा। आरोपियों ने बताया कि वे नशे के सामान को बाउंड्रीवाल के अंदर फेक देते थे, जहां से बच्चें इसे ले लिया करते थे। युवकों की तलाशी में उनके कब्जे से नशे का सामान बरामद किया गया।