जबलपुर । प्रदेश के जबलपुर स्थित गन कैरिज फैक्ट्री (जीसीएफ) में 130 एमएम सारंग तोप को अपग्रेड करने का काम शुरू हो चुका है। यहां पर मात्र डेढ़ माह के दौरान 130 एमएम 'सारंग तोप' को अपग्रेड किया जाएगा। निर्माणी प्रशासन यह तोप 26 जनवरी की दिल्ली परेड में शामिल होने को भी भेज सकता है। हालांकि अभी रक्षा मंत्रालय के निर्देशों का इंतजार है। सूत्र बताते हैं कि जीसीएफ को इस वर्ष में कुल 18 सारंग तोप अपग्रेड करना है। रक्षा मंत्रालय के निर्देश पर जीसीएफ को अभी कुल 8 तोप (130एमएम सारंग) सौंपी गईं हैं। इस निर्माणी के फील्ड गन शॉप (एफजीएस) नं.1 व 2 और गन मशीन शॉप (जीएमएस) में 3 पुरानी सारंग तोप खोलकर काम किया जा रहा है। इसी बीच निर्माणी प्रशासन ने आयुध निर्माणी कानपुर को सारंग तोप अपग्रेड करने 155एमएम बैरल व अन्य हिस्से भेजने पत्र जारी कर दिया। जीसीएफ का पत्र मिलते ही ओएफ कानपुर ने 3 बैरल और अन्य हिस्से जीसीएफ जबलपुर को भेज दिए। हाल ही में निर्माणी के दौरे पर ओएफबी चेयरमैन सौरभ कुमार आए और उन्होंने धनुष के साथ ही सारंग तोप के अपग्रेडशन का कार्य भी देखा। उन्होंने निर्माणी प्रशासन के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में 130एमएम सारंग तोप 26 जनवरी की दिल्ली परेड में शामिल करने पर गंभीरता से चर्चा की।
     इसके बाद से निर्माणी प्रशासन सारंग तोप को तेजी से तैयार करने में जुटा है। यदि निर्माणी ने अपग्रेड सारंग तोप को दिल्ली परेड में भेजा, तो वहीं से इन्हें फायरिंग टेस्ट के लिए भेजने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। कानपुर से 130एमएम सारंग तोप के हिस्सों के साथ इसकी नई ड्राइंग डिजाइन भी आई है। निर्माणी के कर्मचारी सारंग को अपग्रेड करने के दौरान उसे नया रूप देने का काम भी करेंगे। निर्माणी में 130एमएम सारंग तोप का बैरल के साथ ही अन्य हिस्से बदलकर अपग्रेड किया जाएगा। इससे सारंग तोप की मारक क्षमता धनुष तोप के बराबर 38 किमी. तक की हो जाएगी। अपग्रेड 130एमएम सारंग का मैनुअल और धनुष (155एमएम/45 कैलिबर) तोप का पूरी तरह कम्प्यूटरीकृत संचालन होगा। साथ ही सारंग तोप किसी गाड़ी में 'टो करके यहां से वहां ले जाई जाएगी। तो धनुष तोप इंजनयुक्त होने से आसानी से यहां से वहां आ-जा सकती है। इस बारे में जबलपुर जीसीएफ पीआरओ संजय श्रीवास्तव का कहना है कि निर्माणी में 130 एमएम सारंग तोप को अपग्रेड करने का काम शुरू हो चुका है। इसके लिए कानपुर से 155एमएम बैरल व अन्य सामग्री भी आ चुकी है। उम्मीद है कि अपग्रेड सारंग तोप जल्द तैयार हो जाएगी।