मुंबई। मुंबई के किसी भी प्रमुख रेलवे टर्मिनस पर यात्री जा लंबी दूरी की ट्रेनों से उतारते हैं तब कहीं ट्रेन के सामने तो कहीं स्टेशन के गेट पर टैक्सी या ऑटो चालक उन्हें अपनी गाड़ी में बिठाने के लिए जबरन वाद-विवाद करते हैं. हालांकि ऐसे स्थिति देश भर के प्रमुख स्टेशनों पर है. कई बार तो टैक्सी ऑटो चालक यात्री के साथ बत्तमीजी करने से परहेज नहीं करते. कुछ ऐसे ही घटना का सामना करना पड़ा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) सांसद और शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले को जब वो औरंगाबाद से मुंबई के दादर टर्मिनस रेलवे स्टेशन पर गुरुवार को देवगिरि एक्सप्रेस से उतरी. सुप्रिया का आरोप है कि एक शख्स ट्रेन के गेट पर आकर उन्हें टैक्सी चाहिए पूछा. उन्होंने ना कहा, बावजूद उसने तीन बार यही सवाल उनसे पूछा. यहां तक कि उनका रास्ता रोककर उसने उनके साथ तस्वीर लेने की कोशिश की. आख़िरकार सुप्रिया ने तत्काल दादर स्टेशन पर आरपीएफ तथा रेलवे अधिकारियों को इस बात की जानकारी दी.  रेलवे पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए उक्त टैक्सी चालक पर जुर्माना लगाया. सांसद सुप्रिया सुले ने रेलवे पुलिस के समक्ष दर्ज कराई गई शिकायत में कहा कि कुलजीत सिंह मल्होत्रा नामक शख्स उनके रेलवे कोच में घुस गया और रास्ता रोककर पूछा कि क्या उन्हें टैक्सी की जरूरत है? इसके बाद सुले ने ट्वीट किया, 'स्पष्ट रूप से यह कहने पर कि टैक्सी की जरूरत नहीं है उसने ‘मेरा रास्ता रोका और उत्पीड़न करते हुए बेशर्मी से साथ तस्वीर लेने की कोशिश की.'