नई दिल्ली । विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप विजेता पीवी सिंधू अगले साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक तक संभल कर बढ़ना चाहती है। सिंधू का लक्ष्य टोक्यो में भी स्वर्ण पदक जीतना है। सिंधू ने हाल ही में विश्व चैंपियनशिप में खिताब जीता था और यह उपलब्धि हासिल करने वाली वह पहली भारतीय खिलाड़ी हैं। सिंधू ने पिछले दो वर्षों में विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक और 2016 के रियो ओलंपिक में भी रजत पदक जीता था। सिंधू ने कहा,‘‘मैं कदम दर कदम आगे बढ़ना चाहती हूं। ओलंपिक तक काफी टूर्नामेंट होने हैं और मुझे अपने अच्छे प्रदर्शन को बरकरार रखना है। फिलहाल मेरा ध्यान चाइना और कोरिया ओपन पर लगा हुआ है जिनके लिये मैं कड़ी तैयारी कर रही हूं।' खिताबी मुकाबले से पहले किसी दबाव को लेकर इस खिलाड़ी ने कहा, ‘जब आप कार्ट पर खेलने उतरते हैं तो दबाव और जिम्मेदारी हमेशा बनी रहती है पर विश्व खिताब ने मेरे मनोबल को ओलंपिक के लिये मजबूत किया है। मैं हमेशा अपना गेम खेलने पर विश्वास रखती हूं और खुद पर अनावश्यक दबाव नहीं डालती।