घरों में अक्वेरियम रखना तो शुभ माना ही जाता है लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि अक्वेरियम में कितनी म‍छलियों को रखना शुभ होता है? फेंगशुई के अनुसार अक्वेरियम में 8 मछलियों को रखा जाना शुभ होता है। क्‍योंकि नंबर 8 को अनंत नंबर माना जाता है। इसका आशय यह है कि ऐसा करने से व्‍यक्ति के जीवन में बेशुमार सुख-समृद्धि की वर्षा होती है।
फेंगशुई के मुताबिक ‘कोई’ फिश रखना शुभ होता है लेकिन यह काफी बड़ी होती है इसलिए इसे रख पाना आसान नहीं होता। क्‍योंकि अधिकतर घरों में अक्वेरियम का साइज नॉर्मल होता है। ऐसे में आप ‘कोई’ फिश की कजिन ‘गोल्‍ड फिश’ को रख सकते हैं। यह भी व्‍यक्ति के सौभाग्‍य-समृद्धि में वृद्धि करती है।
फेंगशुई कहता है कि अक्वेरियम में रेड स्‍वॉर्ड और ब्‍लैक मॉली फिश को रखना भी शुभ होता है। लेकिन ध्‍यान रखें जब भी आप अपने अक्वेरियम में फिश को रखें तो उनकी संख्‍या 8 होनी चाहिए। इसमें आप अलग-अलग तरह की फिश को शामिल कर सकते हैं।
नंबर 8 दो सर्किल से मिलकर बनता है। जो कि अनंतता का सूचक माना जाता है। यानी कि जिसका न आदि है और न अंत। फेंगशुई कहता है कि यह नंबर व्‍यक्ति के जवीन में सुख-समृद्धि और सफलता लेकर आता है। यही वजह है कि अक्वेरियम में जब भी फिश की संख्‍या की बात आती है तो कहा जाता है कि 8 मछलियां रखना शुभ होता है।
फेंगशुई के मुताबिक रंग-बिरंगी मछलियों के साथ ही अक्वेरियम में काली मछली रखनी जरूरी होती है। कहा जाता है कि काली मछली सुरक्षा का प्रतीक होती है। यानी कि यह घर के सभी सदस्‍यों को नकारात्‍मक शक्तियों से होने वाली नुकसान से बचाती है। अक्वेरियम के साथ एक और बात का ख्‍याल रखना जरूरी होता है कि अगर कभी किसी मछली की मौत हो जाए तो उसे तुरंत ही किसी नदी में प्रवाहित कर देना चाहिए। फेंगशुई कहता है कि जिस भी रंग की मछली की मौत हुई हो उसी रंग की मछली लाकर दोबारा से अक्वेरियम में डाल देनी चाहिए।