मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहंती ने आज रीवा में रीवा एवं शहडोल संभाग की समीक्षा करते हुए निर्देश दिये कि खाद्य पदार्थों में मिलावटखोरी के विरूद्ध सख्ती से कार्यवाही करें। उन्होंने जन-कल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए कहा कि एक भी पात्र हितग्राही शासन की योजनाओं के लाभ से वंचित नहीं रहे।

मुख्य सचिव ने कहा कि विकास कार्यों के साथ शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए जनहित में सद्भावनापूर्वक निर्णय लें। शासन स्तर से पूरा सहयोग मिलेगा। उन्होंने कहा कि बाँधों से जब भी पानी छोड़ा जाये, तो पहले इसकी सूचना डाउन स्ट्रीम के रहवासियों तक पहुँचाई जाये। उन्होंने त्यौहारों को ध्यान में रखते हुए कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिये सतर्कता से काम करने को कहा।

श्री एस.आर. मोहंती ने कहा कि राजस्व प्रकरणों का शीघ्रता से निराकरण सुनिश्चित करें। ग्रामीण क्षेत्र का व्यापक दौरा करें। ध्यान रखें कि नामांकन, सीमांकन, बँटवारा आदि के 6 माह से अधिक पुराने प्रकरण लंबित न रहें। उन्होंने कहा कि किसानों को रबी फसलों के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद-बीज उपलब्ध कराने के लिए अभी से कार्य-योजना बनायें। फसल चक्र और उद्यानिकी फसलों का अधिकाधिक उत्पादन सुनिश्चित करें।

मुख्य सचिव ने कहा कि सभी जिलों में आधारभूत कार्य-प्रणाली लागू करें। 'आपकी सरकार-आपके द्वार' कार्यक्रम को सर्वोच्च प्राथमिकता दें। शहरी और ग्रामीण अंचलों में पेयजल आपूर्ति के लिए कार्य-योजना बनाकर काम करें। वन मित्र साफ्टवेयर के जरिये वनाधिकार प्रकरणों का बारीकी से परीक्षण कर पात्र हितग्राही को लाभ पहुँचायें। मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि बारिश खत्म होते ही सड़कों की मरम्मत का काम शुरू किया जाये। इसके लिए पहले से ही सभी तैयारियाँ पूरी करें।