नई दिल्ली । युवा मामलों और खेल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  किरेन रिजिजू ने शुक्रवार को नई दिल्ली में भारतीय निशानेबाजी टीम के सदस्यों से मुलाकात की, जो हाल ही में रियो डी जनेरियो में संपन्न आईएसएसएफ राइफल और पिस्टल विश्व कप में हिस्सा लेकर लौटे हैं। उन्होंने निशानेबाजों को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई दी। प्रतियोगिता में भारत ने पांच स्वर्ण, दो रजत और दो कांस्य पदक हासिल करके पदक तालिका में शीर्ष स्थान प्राप्त किया है।  रिजिजू के साथ मुलाकात के दौरान उपस्थित निशानेबाजों में अपूर्वी चंदेला, अंजुम मौद्गिल, इलावेनिल वलारिवन, मनु भाकर, यशस्विनी देसवाल, संजीव राजपूत, अभिषेक वर्मा और दीपक कुमार शामिल थे। इस अवसर पर भारतीय राष्ट्रीय राइफल्स संघ के अध्यक्ष  रनिंदर सिंह और कोच जसपाल राणा, पावेल स्मिरनोव तथा ओलेग मिखाइलोव भी उपस्थित थे।
निशानेबाजी में भारत का यह शानदार वर्ष रहा है। वर्ष २०१९ में सभी आईएसएसएफ सीनियर विश्व कप में भारत ने १६ स्वर्ण, ४ रजत और २ कांस्य पदक जीते हैं। इन २२ पदकों में से १२ व्यक्तिगत स्पर्धाओं में मिले हैं और १० मिश्रित टीम स्पर्धाओं में। यह प्रतिस्पर्धाएं १० मीटर एयर राइफल और १० मीटर एयर पिस्टल की हैं। भारत ने अब तक टोक्यो २०२० ओलंपिक के लिए निशानेबाजी में नौ कोटा जीते हैं, जिसमें पुरुषों की ५० मीटर राइफल ३ पोजीशन में संजीव राजपूत और महिलाओं की १० मीटर एयर पिस्टल में यशस्विनी देसवाल के साथ रियो विश्व कप में कोटा अर्जित किया है। भारतीय निशानेबाजी टीम को बधाई देते हुए  रिजिजू ने कहा, ‘निशानेबाजी में भारतीय दल ने शानदार प्रदर्शन किया है और हम एक मजबूत टीम टोक्यो ओलम्पिक्स में भेजेंगे। इस खेल से भारत को बहुत उम्मीदें हैं।’