इन्दौर । केंद्र सरकार के इन्दौर स्थित कार्यालयों की नगर राजभाषा समिति की छमाही समीक्षा बैठक आज आयकर विभाग में संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता मुख्य आयकर आयुक्त श्री डी. पी. हाकिप ने की. इस अवसर पर श्री हाकिप और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने समिति की वार्षिक पत्रिका “दिशा” का विमोचन किया। श्री हाकिप ने सभी विभाग प्रमुखों और राजभाषा अधिकारियों से अनुरोध किया कि वे अपने अपने कार्यालयों में राजभाषा हिन्दी में ही अधिकाधिक कार्य करें और अपने अधिनस्थ अधिकारियों तथा कर्मचारियों को हिन्दी में कार्य करने के लिए प्रेरित करे ताकि राजभाषा विभाग द्वारा दिए गए लक्ष्यों को हासिल किया जा सके।
दिशा पत्रिका के प्रकशन को एक सराहनीय पहल बताते हुए मुख्य आयकर आयुक्त श्रे एहाकिप ने कहा कि इस पत्रिका के माध्यम से विभागीय कर्मियों को अपनी रचनात्मक प्रतिभा को निखारने का मौका मिलता है। साथ ही अनेक विभागों की कार्यप्रणाली और गतिविधियों को भी पत्रिका के जरिये जान पाते है। आयकर विभाग के राजभाषा अधिकारी और आयकर आयुक्त श्री संत सरन मंत्री ने सभी केन्द्रीय कार्यालयों में पिछले छः महीनों में हिन्दी में किये गए कार्यों और राजभाषा अधिनियम के अनुपालन की समीक्षा की। श्री मंत्री ने बताया कि समिति द्वारा आगामी नवम्बर- दिसंबर माह के दौरान केन्द्रीय कर्मचारियों के लिए निबंध, भाषण, गायन और एकल नाट्य प्रस्तुति की प्रतियोगिताएं आयोजित की जायेंगी। क्षेत्रीय लोक संपर्क ब्यूरो के सहायक निदेशक मधुकर पवार, आयका रापीलीय अधिकरण के सहायक पंजीयक श्री मनीष भोई, कर्मचारी राज्य बीमा निगम के सहायक निदेशक श्री राकेश शर्मा आदि ने राजभाषा हिन्दी को प्रोत्साहन देने, समिति की अन्य कार्यालयों में बैठक और प्रतियोगिताएं आयोजित करने संबधी महत्वपूर्ण सुझाव दिए।  बैठक का संचालन समिति की सचिव श्रीमती प्रज्ञा द्विवेदी ने किया। बैठक में सभी केंद्रीय कार्यालयों के विभाग प्रमुख, वरिष्ठ अधिकारी और राजभाषा अधिकारी मौजूद थे।