इन्दौर । स्वास्थ्य मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने कहा है कि डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया आदि वर्षाजनित बीमारियों की रोकथाम के लिये व्यापक प्रबंध किये जायें। यह ध्यान रखा जाये कि यह बीमारियां फैले नहीं। नागरिकों को बीमारियों की रोकथाम के उपाय, लक्षण और उपचार के संबंध में जागरूक बनाया जाये।
श्री सिलावट ने आज रेसीडेंसी में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने जिले में इन बीमारियों के रोकथाम के लिये किये जा रहे प्रयासों की जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे सजग होकर कार्य करें। शहर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में अलग-अलग कार्ययोजना बनाकर बीमारियों की रोकथाम के लिये कदम उठायें। नगर निगम तथा जिला पंचायत का सहयोग लेकर साफ-सफाई आदि व्यवस्था करवायें। उन्होंने कहा कि ऐसे क्षेत्र चिन्हित कर लिये जायें जहां पर गत वर्ष अधिक संख्या में मरीज उक्त बीमारियों से पीड़ित थे। ऐसे क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दें। शहर की तंग बस्तियों में विशेष ध्यान दिया जाये। नागरिकों को जागरूक बनाया जाये, कि वे घरों तथा आसपास जल जमाव नहीं होने दें। एहतियात के रूप में उपाय करने के संबंध में भी जानकारी दी जाये। बैठक में उन्होंने कहा कि पीसी सेठी अस्पताल में डेंगू एवं चिकनगुनिया की जाँच की सुविधा उपलब्ध करायी जाये। यह सुविधा अभी एमवाय हास्पिटल में ही है। बैठक में बताया गया कि उक्त बीमारियों की रोकथाम के लिये पर्याप्त मात्रा में दवाइयां उपलब्ध है।