भोपाल  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ अपने दो दिन के दिल्ली दौरे से वापस लौट आए हैं। दिल्ली में उन्होंने नए पीसीसी चीफ से लेकर निगम मंडल में नियुक्ति और कैबिनेट विस्तार पर भी चर्चा की। जल्द ही इस पर फैसला लिए जाने की अटकलें तेज़ हो गई हैं।

दरअसल, हाल ही में कांग्रेस विधायकों की नाराजगी खुलकर सामने आ रही है। तीन दिन पहले पछोर से कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक केपी सिंह (कक्काजू) का एक वीडियो वायरल हुआ था। इसमें वह सरकार पर निशाना साधते नजर आ रहे थे। एक स्थानीय कार्यक्रम में उन्होंने सरकार को भ्रष्टाचार से लेकर अन्य मोर्चो पर फेल करार दिया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि अफसर अभी भी सरकार की बत नहीं सुन रहे हैं। उनके बयाने के एक दिन बाद बसपा के विधायकों ने भी उनके सुर में सुर मिलाए थे। इधर, सीएम के लौटने के बाद अब कयास लगाए जा रहे हैं कि कैबिनेट विस्तार जल्द हो सकता है। इसमें बसपा, सपा विधायक समेत कांग्रेस के वरिष्ठ विधायकों को भी शामिल किया जा सकता है।

लोकसभा चुनाव के बाद से कैबिनेट विस्तार अटका हुआ है। इससे पहले लगातार निर्दलीय विधायक और अन्य पार्टियों के विधायक अपना समर्थन वापस लेने की बात कह रहे थे। वह लगातार सरकार पर दबाव बना रहे हैं। जिसे देखते हुए सरकार मंत्री मंडल के अलावा निगम मंडल में भी कई विधायकों को एडजस्ट किया जाएगा।