नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाने और राज्य के पुनर्गठन के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. ऐसे में देश में आतंकी हमलों की आशंका के चलते सभी 19 हवाई अड्डों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सोसाइटी (BCAS) की तरफ से एयरपोर्ट पर सुरक्षा बढ़ाने के लिए एडवाइजरी जारी की गई है. दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, चेन्नई, कोलकाता, अमृतसर, रायपुर, जयपुर, लखनऊ, श्रीनगर, पटना, भोपाल समेत सभी एयरपोर्ट पर सुरक्षा जांच बढ़ाने, पेट्रोलिंग बढ़ाने और आतंकी हमलों को रोकने के लिए सुरक्षा व्यवस्था के और कड़े कदम उठाने के लिए कहा गया है.

एक-एक घंटे बड़ा समय
15 अगस्त और आतंकी हमले की आशंक को देखते हुए यह बदलाव किया गया है. जांच बढ़ाए जाने के बाद अब घरेलू उड़ान के लिए यात्रियों को तीन घंटे पहले और अंतरराष्ट्रीय उड़ान वाले यात्रियों को 4 घंटे पहले एयरपोर्ट पर पहुंचना होगा. इससे पहले घरेलू उड़ान के लिए यात्रियों को दो घंटे पहले और इंटरनेशनल फ्लाइट के लिए तीन घंटे पहले पहुंचना होता था.

10 से 30 अगस्त तक लागू रहेगा नियम
स्वतंत्रता दिवस को ध्यान में रखते हुए यह नियम 10 अगस्त से 30 अगस्त तक लागू रहेगा. एयरपोर्ट आने वाले सभी वाहनों की गहन चेकिंग एयरपोर्ट से 1 किमी पहले से ही की जाएगी. बीएसएएस की तरफ से मल्टीपल लेवल चेकिंग के आदेश दिए गए हैं. 10 अगस्त से एयरपोर्ट पर विजिटर एंट्री पर रोक लगई जाएगी. 30 अगस्त तक यात्रियों के अलावा पायलट, क्रू मेंबर, ग्राउंड स्टॉफ समेत एयरपोर्ट पर आने वाले सभी कर्मचारियों की जांच होगी.


स्टॉफ को भी सुरक्षा जांच से गुजरना होगा
यह भी देखा जाएगा कि इनमें से किसी स्टॉफ ने शराब तो नहीं पी. इसके लिए सभी का ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट होगा. अभी तक केलव पायलट और केबिन क्रू ही इस प्रोसेस से गुजरते थे. BCAS की तरफ से सभी राज्यों के डीजीपी, डीजी सीआईएसफ को आईजीआई का संचालन करने वाली कंपनी डायल के अलावा इंडिगो एयरलाइंस, स्पाइसजेट, गो एयर, एयर एशिया और विस्तारा एयरलाइंस को भी एडवाइजरी जारी की गई है.