लंदन । इंग्लैण्ड में भारतीय मूल के बच्चे अपने साथ पढ़ने वाले अंग्रेज बच्चों से पढ़ाई में बहुत आगे रहते हैं। हाल ही में जारी हुई नए शोध की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई हैं। एजुकेशन पॉलिसी इंस्टिट्यूट (ईपीआई) थिंक टैंक ने अपनी सालाना रिपोर्ट 2019 में कहा है कि भारतीय और चीनी मूल के लोगों के यहां पढ़ने वाले बच्चे अपने समकक्ष ब्रिटिश बच्चों से विभिन्न स्तरों पर आगे रहते हैं। ईपीआई ने कहा कि प्राइमरी स्कूल के अंत तक चीनी बच्चे, श्वेत ब्रिटिश बच्चों से करीब 12 महीने आगे रहते हैं और भारतीय बच्चे उनसे सात महीने आगे रहते हैं। इसमें कहा गया है कि सेकेंडरी शिक्षा में चीनी और भारतीय बच्चे ब्रिटिश बच्चों से क्रमश: 24.8 महीने और 14.2 महीने आगे हैं।