बिलासपुर। छत्तीसगढ़ की न्यायधानी बिलासपुर में छत्तीसगढ़ इंटेग्रेटेड स्टूडेंट कांक्लेव द्वारा आयोजित एक दिवसीय राष्ट्रीय वाद- विवाद प्रतियोगिता में बतौर मुख्य अतिथि कांग्रेस नेता और पीआईएसएफ चैयरमेन नितिन भंसाली उपस्थित हुए। सभी युवा प्रतिभागियों के तर्क सुनने के उपरांत नितिन भंसाली ने अपने उद्बोधन में कहा की धारा 370 एक बेहद गम्भीर विषय है।
जम्मू कश्मीर में फैले अलगाववाद को ख़त्म करने के लिए नेताओं को चुनाव नहीं, जनमानस का दिल जीतना होगा। उन्होंने कहा की तत्कालीन केंद्र सरकार ने तो इसे अपने घोषणापत्र में भी शामिल किया था और समय पर उनको ये वादा पूरा भी करना चाहिए था। नितिन भंसाली ने कश्मीर समस्या के समाधान के लिए देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के योगदान के बारे में भी कार्यक्रम में मौजूद छात्रों को बताया। एक छात्र द्वारा किये गए सवाल के जवाब में श्री भंसाली ने कहा की कश्मीर मुद्दे में केंद्र सरकार को सभी राजनीतिक दलों, धर्मों और आम नागरिकों को विश्वास में लेकर ही कोई ठोस निर्णय लेना चाहिए। उद्बोधन के बाद नितिन भंसाली ने सभी विजेताओं को पुरस्कृत किया एवं प्रतिभागियों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा की आप सभी इस उम्र में राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा कर रहे हैं, यह अपने आप में एक बहुत बड़ी उपलब्धि और खुशी की बात है। कार्यक्रम के अंत में आयोजन समिति के सदस्य आकाश गुप्ता, आयुष्मान त्रिपाठी, चाँदनी एवं जिनेंद्र ने आभार प्रकट किया।