जबलपुर। नगर निगम जबलपुर और जिला प्रशासन की संयुक्त टीम ने शुक्रवार को यहां गढ़ा पुरावा चौहानी के पास १५ धर्म स्थल हटाए, जिनमें १४ छोटे-बड़े मंदिर और एक मजार भी शामिल है। एक दुर्गा मंदिर को हटाने के लिए समिति से सहमति बन गई है, यहां आज कार्रवाई की जाएगी। कार्रवाई के दौरान गोरखपुर संभाग की कार्यपालिक मजिस्ट्रेट (एसडीएम) मनीषा वास्कले भी मौजूद थीं। साथ में पुलिस बल भी मौजूद रहा। नगर निगम द्वारा बताया गया कि मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई। 
छोटे-बड़े मंदिर और मजार हटाई ........
नगर निगम के अतिक्रमण अधीक्षक नरेन्द्र राजपूत ने बताया कि मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के निर्देश पर एसडीएम मनीषा वास्कले के निर्देशन में कार्रवाई की गई। गढ़ा चौहानी मुक्तिधाम के आसपास बने छोटे-छोटे मंदिरों को हटाया गया। वहीं मदनमहल शारदा मंदिर के रास्ते पर बैलेंसिंग रॉक के पास बने एक मंदिर और अखाड़े को भी हटाया गया। इसी प्रकार मदनमहल शारदा मंदिर रोड पर बने झिरिया वाले बाबा की मजार को भी हटाया गया। गढ़ा चौहानी के पास बने नौ छोटे-छोटे मंदिरों को भी हटाया गया। ये सभी मंदिर सरकारी भूमि पर बने थे।
हितकारणी देवताल के पास आज होगी कार्रवाई ........
हितकारणी स्कूल, देवताल गढ़ा के पास एक पुराना दुर्गामंदिर बना हुआ है। पहाड़ी पर बनाए गए इस मंदिर की समिति के साथ चर्चा हो गई है। मंदिर हटाने पर आम सहमति भी बन गई है। लिहाजा यहां कार्रवाई रोक दी गई। आज यह मंदिर हटाने की कार्रवाई की जाएगी। कुल मिलाकर १५ धर्म स्थल हटाए गए। इस कार्रवाई के दौरान अतिक्रमण अधीक्षक नरेन्द्र राजपूत, दल प्रभारी लक्ष्मण कोरी, मुकेश पारस, नरेन्द्र कुशवाहा, सहित जेसीबी का अमला और पुलिस बल बड़ी संख्या में मौजूद रहा।