अहमदाबाद | जून महीने से गुजरात से आंख मिचौली खेल रही मौसम की बारिश अब धीरे धीरे अपना रंग दिखाने लगी है| करीब एक पखवाड़े के विराम के बाद पिछले तीन चार दिनों से गुजरात के कई इलाकों में मध्यम से भारी बारिश हो रही है| भारी बारिश के कारण राज्य की कई नदियों में बाढ़ से हालात हैं| कई चेकडेम और डेम ऑवरफ्लो हो गए हैं| पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के 22 जिलों की 114 तहसीलों में बारिश हुई है| मध्य प्रदेश में हो रही बारिश के कारण सरदार सरोवर बांध के जलस्तर में भी लगातार वृद्धि हो रही है| पिछले 12 घंटों में दक्षिण गुजरात के डांग जिले के वघई में आठ ईंच से भी ज्यादा बारिश होने की खबर है| डांग के वघई के अलावा सुबीर और आहवा में मूशलाधार बारिश हो रही है| सुबीर में 5 और आहवा में 4 ईंच बारिश दर्ज हुई है| तापी जिले की नीझर में 3.5 ईंच, वलसाड के कपराडा, धरमपुर में 3.5 ईंच, नवसारी के वांसदा में 3.5 ईंच, जबकि नवसारी के चीखली और खेरगाम में 2-2 ईंच बारिश हुई| मध्य गुजरात में मेघा मेहरबान है| दाहोद के देवगढ़ बारिया और सुखसर में बारिश हो रही है| वडोदरा शहर में लंबे विराम के बाद फिर एक बार बारिश होने से लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिली है| अहमदाबाद शहर और जिले के विरमगाम समेत ग्रामीण इलाकों में बारिश हो रही है| सौराष्ट्र में भी बरसाती माहौल बना हुआ है| राजकोट शहर में लंबे विराम के बाद बारिश हो रही है| राजकोट जिले के जेतपुर में मूशलाधार बारिश से सर्वत्र पानी पानी हो गया| जूनागढ़ में पिछले तीन दिनों से मेघा दिल खोलकर बरस रहा है| जंगल क्षेत्र में हो रही भारी बारिश के कारण शहर का डेम ऑवरफ्लो हो गया है| जूनागढ़ शहर को पानी उपलब्द कराने वाले इस डेम के ऑवरफ्लो होने से पेयजल की समस्या का निपटारा होने की लोगों में उम्मीद जगी है| अमरेली के बाबरा में सुबह से बारिश हो रही है| सौराष्ट्र में अच्छी बारिश होने से कृषि फसलों को जीवनदान मिला है| भारी बारिश के कारण ज्यादातर बांधों के जलस्तर में इजाफा हो रहा है| 
इस बीच मौसम विभाग ने अनुमान व्यक्त किया है कि गुजरात में अगले पांच दिनों के दौरान बारिश का दौर जारी रहेगा| राज्य में अगले पांच दिनों तक लगातार बारिश होगी| जिसमें 28 और 29 जुलाई को भारी से अतिभारी बारिश हो सकती है| मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक राज्य के कई हिस्सों में जबर्दस्त बारिश होगी| जिसमें उत्तरी गुजरात के अरवल्ली, बनासकांठा, साबरकांठा, पाटण और मेहसाणा अतिभारी बारिश हो सकती है| मध्य गुजरात के महीसागर, अहमदाबाद, गांधीनगर, दक्षिण गुजरात के तापी, सूरत, वलसाड और दमण में भी अतिभारी बारिश होने का अनुमान है| कच्छ के अलावा सौराष्ट्र के सुरेन्द्रनगर, मोरबी, जामनगर में अतिभारी बारिश की संभावना है| गुजरात में अब तक मौसम की 29.45 प्रतिशत बारिश हो चुकी है|