राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना की सहायता राशि में अप्रत्याशित वृद्धि करते हुए इसे 28 हजार से बढ़ाकर 51 हजार किये जाने से जबलपुर जिले की बेटी प्रियंका कोरी और रजनी मल्लाह, नरसिंहपुर जिले की बेटी अंजना और शिवपुरी जिले की बेटी पूजा के गरीब परिवार इनकी शादी की व्यवस्था और दहेज की चिंता से पूरी तरह मुक्त हो गये हैं। इन परिवारों को शादी में बारातियों के स्वागत, भोजन और बैण्ड-बाजे आदि की व्यवस्था भी नहीं करनी पड़ी। राज्य सरकार ने सामाजिक एवं स्वयंसेवी संगठनों को सामूहिक विवाह सम्मेलन में प्रत्येक बेटी की शादी की व्यवस्थाओं के लिये 3 हजार की सहायता राशि दी। संगठनों ने टेंट, शामियाना, बिजली, पानी, कूलर, पंखा, गद्दे, रजाई और भोजन आदि की पूरी व्यवस्था की। सम्मेलन में ब्याही इन बेटियों को नई गृहस्थी जुटाने के लिये राज्य सरकार ने इनके बैंक खातों में 48-48 हजार रुपये सहायता राशि भी जमा कराई।

जबलपुर जिले के मझौली विकासखण्ड की ग्राम पंचायत बीछी में मेहनत-मजदूरी  से परिवार का पालन-पोषण करने वाले प्रकाश कोरी बेटी प्रियंका के ब्याह को लेकर हमेशा चिन्तित रहते थे। बेटी का रिश्ता तो जैसे-तैसे तय कर दिया लेकिन बाकी व्यवस्थाएँ नहीं कर पा रहे थे। दहेज जुटाना तो दूर की बात थी। सरपंच से मिले, तो उसने योजना के बारे में बताया और बाकी व्यवस्थाएँ भी कराई। प्रकाश कोरी ने बेटी को खुशी-खुशी ससुराल के लिये विदा किया।

 जबलपुर जिले के पाटन विकासखण्ड के ग्राम कटरा बेलखेड़ा निवासी दीना मल्लाह के परिवार की भी कुछ ऐसी ही परिस्थिति थी। मजदूरी से परिवार चलाते थे। बेटी रजनी का रिश्ता ग्राम नयाखेड़ा निवासी राकेश मल्लाह के साथ तय तो कर दिया था लेकिन शादी का इंतजाम नहीं हो पाने के कारण किसी न किसी बहाने शादी की तारीख बढ़ाते जा रहे थे। एक दिन इन्हें पंचायत सचिव ने बताया कि पाटन कृषि उपज मण्डी परिसर में राज्य सरकार के सहयोग से सामूहिक विवाह सम्मेलन हो रहा है। पंचायत सचिव ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना के फायदे के बारे में भी बताया। दीना मल्लाह ने तुरंत वर पक्ष को सम्मेलन में बारातियों सहित पहुँचने का न्यौता दिया। सम्मेलन में दोनों परिवारों की शानदार खातिरदारी हुई। ग्राम पंचायत के प्रतिष्ठित लोगों ने बेटी रजनी को सम्मानपूर्वक ससुराल विदा किया।

नरसिंहपुर जिले की करेली जनपद के ग्राम कोतमाखेड़ा में राज्य सरकार के सहयोग से  सामूहिक विवाह/निकाह सम्मेलन आयोजित हुआ। यहाँ ग्राम कंधरापुर के गरीब परिवार की मुखिया नर्मदाबाई की बेटी अंजना का विवाह होशंगाबाद जिले की बनखेड़ी तहसील के ग्राम सिंहपुर निवासी सरवन ह्रदय सिंह के साथ बड़ी धूमधाम से सम्पन्न हुआ। नव-दम्पत्ति को राज्य सरकार की ओर से नई गृहस्थी शुरू करने के लिये उनके बैंक खाते में 48 हजार सहायता राशि भी प्राप्त हुई।

 शिवपुरी में जनपद पंचायत ने अभी पिछले दिनों गाँधी पार्क में सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया। ग्राम सिरसौर निवासी नन्दू ने अपनी बेटी पूजा की शादी इस सम्मेलन में करैरा निवासी हरीराम वाल्मीकि के पुत्र शनि वाल्मीकि के साथ कराई। नन्दू सम्मेलन की शानदार तैयारियों से बहुत खुश हुआ। सम्मेलन की शानदार व्यवस्थाओं को देखकर नन्दू का पूरा परिवार और रिश्तेदार आश्चर्यचकित थे। शहर के गणमान्य नागरिकों ने नन्दू की बेटी को सम्मानपूर्वक ससुराल के लिये विदा किया।