नई दिल्ली: भारत और न्यूजीलैंड की टीमें आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप (ICC World Cup) में गुरुवार को आमने-सामने होंगी. दोनों ही टीमें मौजूदा वर्ल्ड कप (World Cup 2019) में अब तक अजेय हैं. यानी, जो भी टीम गुरुवार को हारेगी, वह उसकी टूर्नामेंट में पहली हार भी होगी. मौजूदा फॉर्म तो दोनों टीमों की बराबर ही नजर आ रही है. लेकिन अगर हम रिकॉर्ड की बात करें तो न्यूजीलैंड (New Zealand) का पलड़ा भारी है. खासकर जून में खेले गए मैचों में वह भारत से कभी नहीं हारा है. 

भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच वर्ल्ड कप में अब तक सात मुकाबले हो चुके हैं. इनमें से चार मुकाबले न्यूजीलैंड ने जीते हैं, जबकि तीन टीम इंडिया (Team India) के नाम रहे हैं. इस तरह से इतिहास न्यूजीलैंड के पक्ष में है. लेकिन वनडे क्रिकेट और खासकर वर्ल्डकप का इतिहास खंगालने पर जून के आंकड़े और खतरनाक नजर आए.

इन आंकड़ों के मुताबिक भारत और न्यूजीलैंड के बीच 44 साल में 106 मुकाबले हुए हैं. इनमें से पांच मैच जून में खेले गए हैं. इसे इत्तफाक कहिए या कुछ और, लेकिन भारतीय टीम जून के महीने में न्यूजीलैंड को कभी नहीं हरा सकी है. इन पांच मैचों में तीन मैच न्यूजीलैंड ने जीते. एक मैच रद्द हो गया, जबकि एक में परिणाम नहीं निकला. इत्तफाक से जून में भारतीय टीम जो मैच भी न्यूजीलैंड से हारी है, वे सभी वर्ल्ड कप के हैं और इंग्लैंड में ही खेले गए हैं. भारत-न्यूजीलैंड और जून...

1. पहले वर्ल्ड कप में 4 विकेट से हारा भारत  
भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड कप का पहला मैच 14 जून 1975 को मैनचेस्टर में खेला गया. इस मैच में भारतीय टीम आबिद अली (70) की पारी की बावजूद 230 रन पर आउट हो गई. न्यूजीलैंड ने यह मुकाबला छह विकेट से जीता. उसकी ओर से ग्लेन टर्नर (114) ने शानदार शतक जमाया. यह वनडे इतिहास में भारत और न्यूजीलैंड का पहला मैच था. 

2. दूसरे वर्ल्ड कप में दोगुना हो गया हार का अंतर 
भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड कप का दूसरा मैच 13 जून 1979 को लीड्स में खेला गया. इस मैच में भारतीय टीम 55.5 ओवर में 182 रन पर आउट हो गई. सुनील गावस्कर ने 55, ब्रजेश पटेल ने 38 और कपिल देव ने 25 रन बनाए. न्यूजीलैंड ने यह मैच आठ विकेट से जीता. ब्रूस एगर ने 84, जॉन राइट ने 48 और ग्लेन टर्नर ने 43 रन बनाए. 

3. दूसरे वर्ल्ड कप में दोगुना हो गया हार का अंतर 
भारत और न्यूजीलैंड के बीच 1999 के वर्ल्ड कप का मुकाबला भी जून में ही खेला गया. इस बार दोनों टीमें 12 जून को नॉटिंघम में भिड़ीं. भारतीय टीम ने अजय जडेजा (76) की पारी बदौलत 251/6 का स्कोर बनाया. न्यूजीलैंड ने इसके जवाब में 48.2 ओवर में 5 विकेट पर 253 रन बनाकर मैच जीत लिया.