राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव ने अपना 30 वां जन्मदिन काफी धूमधाम से मनाया। खास बात यह रही कि काफी अरसे के बाद तेजप्रताप से मिलने उनके छोटे भाई तेजस्वी यादव भी पहुंचे और साथ में केक काटा। इसके बाद तेजस्वी ने बड़े भाई तेजप्रताप को सीक्रेट गिफ्ट भी दिया और बताने से इन्कार किया कि आखिर वो है क्या?

तेजस्वी ने कहा-बड़े भाई हैं तेजप्रताप, मेरे कृष्ण कन्हैया हैं

तेजस्वी ने कहा कि तेजप्रताप मेरे बड़े भाई हैं, मेरे मार्गदर्शक हैं, मेरे कृष्ण कन्हैया हैं, मैं उनका अर्जुन हूं। हमारे बीच किसी तरह का कोई मतभेद नहीं है। हम दोनों एक हैं। तेज-तेजस्वी के बीच भले ही सत्ता का संघर्ष चल रहा हो, दोनों की राहें भले ही अलग-अलग हो गईं हों, बावजूद इसके पार्टी में दोनों भाईयों ने एकजुटता दिखाने में कोई कमी नहीं की। तेजप्रताप के जन्मदिन के मौके पर लंबे अरसे बाद दोनों भाइयों का भरत मिलाप हुआ।

राबड़ी ने बेटे से घर लौट आने की विनती की

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने मंगलवार को अपना 30वां जन्मदिन मनाया, जिसमें तेजस्वी यादव, राबड़ी देवी, मीसा भारती समेत उनके परिवार के कई चेहरे दिखे। काफी दिनों के बाद लालू परिवार के सदस्य एक साथ दिखे और सभी ने एक साथ मिलकर तेजप्रताप का जन्मदिन मनाया। अपने बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के उनके नए बंगले में आयोजित जन्‍मदिन समारोह में मां राबड़ी देवी भी पहुंचीं। उन्‍होंने बेटे से घर लौटने की विनती की।

प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे भी पहुंचे तेजप्रताप के घर

इतना ही नहीं, तेजप्रताप के धुर-विरोधी रहे पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र पूर्वे भी उनको जन्मदिन पर बधाई देने के लिए उनके घर पहुंचे थे। बात सही है कि बर्थ डे सेलिब्रेशन के जरिये लालू परिवार ने तेजप्रताप से हो रहे पार्टी और परिवार के डैमेज को कुछ हद तक कंट्रोल करने की जरूर कोशिश की है। 
अपने आवास पर आयोजित किया समारोह 
अपने जन्मदिन को अनोखे तरीके से मनाते आ रहे तेज प्रताप ने इस बार भी वैसी ही तैयारी कर रखी थी। पिछले नवंबर माह में पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक लेने की अर्जी दाखिल करने के बाद से तेज प्रताप अपनी मां राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर कभी नहीं गए हैं। राज्य सरकार से उन्होंने अपने लिए राजधानी में अलग आवास आवंटित करा रखा है। जश्न का आयोजन उसी आवास में किया गया था। 
परिवार के सदस्‍यों ने दी शुभकामनाएं
तेज प्रताप यादव ने अपने जन्‍मदिन समारोह में शिरकत करने के लिए परिवार के सदस्यों समेत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को भी बुलाया था। मुख्‍यमंत्री व उपमुख्‍यमंत्री तो नहीं आए, लेकिन लालू परिवार के सदस्यों ने शुभकामनाएं देने में संकोच नहीं किया।
मां राबड़ी देवी ने घर लौटने को कहा
मां राबड़ी देवी ने उनकी लंबी उम्र की कामना करते हुए घर लौट आने का आग्रह किया। चुनाव प्रचार के लिए जाने से पहले सुबह भाई तेजस्वी यादव ने उन्हें शुभकामना दी और लौटकर जश्न में शरीक होने का वादा किया था। शाम को जनसभाएं करके लौटने के क्रम में हवाई अड्डे से ही तेजस्वी ने तेजप्रताप के आवास की ओर रुख किया और दोनों भाइयों ने मिलकर गिले-शिकवे दूर किए। 
तेजस्‍वी ने अपने 'कृष्‍ण' को दी बधाई 
चुनाव प्रचार से लौटने के बाद तेजस्‍वी यादव भी बड़े भाई तेजप्रताप यादव को जन्‍मदिन की बधाई देने गए। दोनों ने साथ केट काटा। इसकी तस्‍वीर ट्वीट करते हुए तेजस्‍वी यादव ने तेजप्रताप को 'कृष्‍ण' संबोधित करते हुए जन्‍मदिन की बधाई दी। 


शिवानंद तिवारी ने दी ये नसीहत 
राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने भी तेजप्रताप की खुशहाली की कामना करते हुए उन्हें लालू-राबड़ी के बताए रास्ते पर चलने की नसीहत दी। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद और राबड़ी देवी का समाज के वंचित तबकों की प्रगति में बड़ा योगदान है। मुझे यकीन है कि तेजप्रताप उस परंपरा को आगे बढ़ाएंगे।
बधाई देने वालों का लगा तांता
पत्नी से तलाक लेने की अर्जी देने के बाद से तेजप्रताप अपने माता-पिता के सरकारी आवास से अलग रह रहे हैं। उन्‍होंने जन्मदिन का जश्न भी इसी आवास में मनाया। वहां सुबह से ही उन्हें बधाई देनेवालों का तांता लग गया। पार्टी के बड़े नेताओं समेत कार्यकर्ताओं और छात्र राजद के सदस्यों ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी। 
पिछले साल ऐसे मनाया था जन्मदिन
तेजप्रताप यादव ने पिछला जन्मदिन अपने तरीके से मनाया था। पटना के यारपुर मोहल्ले स्थित दलित बस्ती में केक काटा और महादलित बच्चों के साथ खुशियां बांटी थी। तब दलित बस्ती में पहुंचे तेजप्रताप का बच्चों ने भी जोरदार स्वागत किया था। 
पिछले साल तेजप्रताप यादव के जन्मदिन के दो दिन बाद ही उनकी सगाई हुई थी। तब तेजप्रताप ने कहा था कि ऐश्वर्या ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी है, लेकिन एकसाल के भीतर ही ऐश्‍वर्या से उनकी शादी तलाक के मुहाने तक पहुंच गई। पत्‍नी ऐश्‍वर्या से तलाक का मुकदमा लड़ रहे तेजप्रताप के जन्‍मदिन समारोह में ऐश्‍वर्या नहीं पहुंचीं।