मिलान। इटली के सारडीनिया समुद्र के ‎किनारे 8 मीटर लंबी गर्भवती व्हेल मछली मृत ‎मिली। चौंकाने वाली बात यह है ‎कि इस मछली के पेट से 22 किलो प्लास्टिक कूड़ा मिला है। इस घटना के बाद वर्ल्ड वाइल्ड लाइफ फाऊंडेशन (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ) ने भू-मध्यसागर में प्लास्टिक कचरे के कारण पैदा हो रहे गंभीर खतरे को लेकर चेतावनी भी जारी की है। समुद्री पर्यावरण के लिए काम करने वाले एक समूह ने बताया कि व्हेल के पेट से बरामद प्लास्टिक के सामान में बिजली से संबंधित कार्यों में उपयोग की जाने वाली नली (ट्यूब), प्लेटें, शॉपिंग बैग्स, मछली पकडऩे का जाल और डिटर्जैंट पाऊडर का कवर भी शामिल है। यह मादा व्हेल पिछले सप्ताह डॉल्फिन और व्हेल मछलियों के लिए जन्नत कहलाने वाली पैलागोस मरीन सैंक्चुरी के उत्तरी तट पर मिली थी। डब्ल्यूडब्ल्यूएफ ने इस बारे में कहा कि समुद्री जीवन के लिए प्लास्टिक सबसे बड़ा खतरा बन गया है और पिछले 2 सालों में इसके कारण यूरोप से एशिया तक 5 अन्य व्हेल मछलियों की मौत हो चुकी है। इससे पहले भी फिलीपींस तट पर बह के आई मृत व्हेल मछली के पेट से 40 किलोग्राम वजन के प्लास्टिक के बैग बरामद किए गए थे। उसकी मौत की वजह गैस्ट्रिक शॉक बताई गई थी। तब भी समुद्री जीवविज्ञानी और दावाओ शहर के डी बोन कलेक्टर संग्रहालय के कार्यकर्ता युवा व्हेल मछली की मौत की इस क्रूर वजह से हैरान रह गए थे।