देश में कई ऐसी सीटें हैं जहां पर मुकाबला कांटे का होगा, लेकिन इस बार जिस सीट पर सभी की निगाहें हैं वह है बिहार की बेगूसराय लोकसभा सीट. इस सीट जेएनयू के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार CPI की टिकट से चुनाव लड़ रहे हैं. उनके सामने बीजेपी के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह हैं. कन्हैया ने मंगलवार सुबह ट्वीट कर गिरिराज पर निशाना साधा.

कन्हैया ने लिखा, ‘लोगों को जबरदस्ती पाकिस्तान भेजने वाले ‘पाकिस्तान टूर एंड ट्रेवेल्स विभाग’ के वीज़ा मंत्री जी नवादा से बेगूसराय भेजे जाने पर हर्ट हो गए, मंत्री जी ने तो कह दिया बेगूसराय को वणक्कम’. कन्हैया का ये ट्वीट सुबह से ही वायरल हो रहा है.

बता दें कि 2014 में नवादा से सांसद चुने गए गिरिराज सिंह को इस बार भारतीय जनता पार्टी ने बेगूसराय से टिकट दिया है, नवादा सीट गठबंधन के तहत रामविलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के खाते में चली गई है.
तभी से गिरिराज सिंह पार्टी से खफा हैं और लगातार बेगूसराय से टिकट मिलने का विरोध कर रहे हैं. गिरिराज का कहना है कि वह पार्टी के नेतृत्व से नाराज़ हैं. उन्होंने पूछा है कि आखिर मेरी सीट नवादा से बदलकर बेगूसराय क्यों कर दी गई, हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि 1996 से ही वह यहां से चुनाव लड़ना चाहते थे. उन्होंने कहा कि मुझे इस बात का दुख है कि मुझसे बिना पूछे मेरी सीट बदल दी गई.

गौरतलब है कि जब से ये तय हुआ है कि बेगूसराय में लड़ाई कन्हैया कुमार बनाम गिरिराज सिंह होने वाली है तभी से यहां रोमांच चरम पर है. कन्हैया कुमार भी लगातार गिरिराज पर सख्त बयान दे रहे हैं. हाल ही में उन्होंने कहा कि उनकी लड़ाई राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से नहीं बल्कि सीधे तौर पर गिरिराज सिंह से है.

पहले ऐसी उम्मीद जताई जा रही थी कि कन्हैया कुमार बेगूसराय से महागठबंधन के संयुक्त उम्मीदवार बन सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं हुआ महागठबंधन ने सीपीआई को जगह नहीं दी. जिसके बाद पार्टी ने खुद कन्हैया को मैदान में उतारा.