ग्वालियर  ।पुलिस अधीक्षक ग्वालियर   नवनीत भसीन के निर्देशानुसार ग्वालियर जिले में हथियारों की अवैध बिक्री करनेवालों के खिलाफचलाये जा रहे अभियान के दौरान जरिए मुखबिर सूचना मिली कि एक बदमाश बस स्टेण्ड ग्वालियर पर पिट्ठूबैग में हथियार लिये बस का इंतजार कर रहा है। पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने तत्काल एएसपी अपराध   पंकज पाण्डेको क्राईम टीम बनाकर हथियारों के सौदागर को पकड़ने के लिये निर्देशित किया।एएसपी अपराध ने तत्काल क्राईम थाना प्रभारी विनोद छावईको अवैधहथियार लिये बदमाश को पकड़ने हेतु निर्देशित किया।बीती  रात्रि को थाना प्रभारी क्राईम ब्रांचविनोदछावई द्वारा मय क्राईम टीम केमुखबिर के बताये स्थान रोडवेज बस स्टेण्ड ग्वालियर पर तलाश करने पर एक संदिग्ध व्यक्तिबस स्टैण्ड के पास खड़ा देखा गया जो अपनीपीठ पर लाईटकत्थई रंग का पिट्ठूबैगजिस पर ।छळत्ल्लिखा है टांगे हुए है।क्राईमब्रांच की टीम द्वारा संदिग्घ बदमाश की घेराबंदी की तो वह पुलिस टीम की उपस्थित देखकरवहां से भागनेलगाजिसेक्राईम टीम द्वारा धरदबोचा।पूछताछ करने पर संदिग्ध ने अपना नाम देवेन्द्रउर्फदेवापुत्र श्रीराम सिंह जादौन निवासी चंद्रपुरा थाना गोरमी जिला भिण्डबताया।बदमाश के बैग की तलाशीलेने पर उसमें३२ बोर की देशी १० पिस्टल मय मैग्जीनतथा ६ मैग्जीनअलग से एवं ६ जिंदा राउण्ड ३२ बोर की कीमती एक लाख पचासहजार रूपये की बरामद की गई। गिरफ्तार बदमाश के विरूद्ध थानाक्राईमब्रांच ग्वालियर में आम्र्स एक्ट का प्रकरण कायम कर विवेचना में लिया गया। पूछताछ में गिरफ्तार बदमाश ने बताया कि वहहथियारसैंधवा(म०प्र०) से १५-१५ हजार रूपये में खरीदकरलायाथाऔरअवैघहथियारों को २५ से ३० हजार रूपये में बैचने की फिराक में था, लेकिनउससेपूर्व की क्राईम टीम द्वारा उसे धरदबोचा लिया गया। क्राईमब्रांच द्वारा गिरफ्तार बदमाष से जप्तअवैधहथियारोंके संबंध में औरविस्तृतपूछताछ की जा रही।पूर्व में भी यह हथियारों का सौदागर थाना ग्वालियर और जिला भिण्ड के थाना गौहदचैराहा पर आम्र्स एक्ट मेंपकड़ा जा चुका है।
सराहनीय भूमिका- उक्त हथियारों के सौदागार को पकड़ने में थाना प्रभारी उनि० विनोदछावई, उनि० महावीर सिंह, विनोद शर्मा, प्रआर० राजीवसोलंकी, आर० दिनेश सिंह तोमर, घनश्याम जाट, लोकेन्द्रराणा, शिवराम सिंह तोमर, लोकेन्द्र कुशवाह, जितेन्द्र तोमर, विकास तोमर, योगेन्द्र तोमर, सतीशराजावत व अंजनी सिंह की सराहनीय भूमिका रही।