हरारे: मोजाम्बिक, जिम्बाब्वे और मलावी में आए एक खतरनाक चक्रवात में करीब 150 लोग मारे गये और सैकड़ों लोग लापता हैं. वहीं सड़क संपर्क और बिजली की सप्लाई बंद हो जाने से हजारों लोग फंस गये  हैं. मुख्यरूप से ग्रामीण इलाकों से टेलीफोन संपर्क कट गया है, जिससे लोग काफी परेशान हैं. संयुक्त राष्ट्र और सरकारी अधिकारियों के मुताबिक, चक्रवात 'इडाई' से तीनों दक्षिण अफ्रीकी देशों में 15 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुये हैं.मोजाम्बिक का केन्द्रीय बंदरगाह शहर बेइरा सबसे अधिक प्रभावित हुआ है जहां हवाई अड्डा बंद है, बिजली आपूर्ति ठप्प है और कई घर नष्ट हो गये हैं. बेइरा में गुरुवार देर रात चक्रवात आया जो कि जिम्बाब्वे और मलावी के पश्चिम की ओर बढ़ गया. इसके कारण हजारों की संख्या में लोग प्रभावित हुए. खासकर सीमावर्ती मोजाम्बिक के पूर्वी इलाकों में लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा.