सुकमा। छत्तीसगढ़ के सर्वाधिक नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में गुरुवार की सुबह सर्चिंग पर निकली पुलिस पार्टी का नक्सलियों की टुकड़ी से सामना हुआ। पोलमपल्ली थाना क्षेत्र के कुंमोपारा के जंगल में हुई। इसके बाद नक्सली मोर्चा छोड़कर भाग गए। पुलिस अधीक्षक जीतेंद्र शुक्ला ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस पार्टी रोड ओपनिंग के लिए निकली थी। इसी दौरान सुबह करीब पौने आठ बजे कुंमोपारा जंगल में 12 से 15 की तादात में माओवादी नजर आए। नक्सलियों ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग शुरू कर दी।

जवाबी फायरिंग करीब 10 मिनट तक चलती रही। इस दौरान नक्सली दूसरी ओर से भाग खड़े हुए। घटना स्थल का मुआयना करने के बाद वहां दो भरमार बंदूक, पिठ्ठू सहित कई नक्सल सामग्री बरामद की गई है। माना जा रहा है कि इस मुठभेड़ में कुछ नक्सली घायल हुए हैं, जिन्हें उनके साथी अपने साथ ले गए। पुलिस पार्टी घटना स्थल से लौट रही है।
नक्सलियों ने सड़क पर लिखी चेतावनी, बंद का किया ऐलान

दोरनापाल और कोंटा के बीच नेशनल हाइवे पर नक्सलियों ने पेंट से अपना संदेश लिखा है। इसमें 31 जनवरी को देश व्यापी बंद का आह्वान नक्सलियों ने किया है और शासन-प्रशासन और नागरिकों के लिए चेतावनी जारी की है।
बताया जा रहा है कि महिला नक्सली के नेतृत्व में यहां पहुंची नक्सलियों की टुकड़ी ने बुधवार की रात यह संदेश लिखे। घटना स्थल पर पुलिस पार्टी पहुंची है। क्षेत्र में सर्चिंग बढ़ा दी गई। नक्सलियों के यहां जमावड़े की आशंका को देखते हुए उनकी तलाश की जा रही है।