जनसम्‍पर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा ने कहा कि जाट महाराजा सूरजमल के चरित्र को गलत ढंग से चित्रित करने वाली फिल्म पानीपत का प्रदर्शन प्रतिबंधित करने की माँग पर वे जाट समाज के साथ हैं। उन्होंने कहा कि इतिहास पुरूष महाराजा सूरजमल की  वीरता,  शौर्य और पराक्रम  से सब परिचित है। महाराजा सूरजमल जाट   समाज के गौरव है। ऐतिहासिक फिल्मों के निर्माताओं को फिल्म निर्माण करते समय ध्यान रखना चाहिए कि ऐतिहासिक सत्यता के साथ किसी प्रकार की छेड़छाड़ न हो।

जाट समाज के गणमान्य नागरिकों के प्रतिनिधिमंडल ने मंत्री श्री शर्मा को ज्ञापन सौंप कर पानीपत फिल्म को प्रतिबंधित करने की माँग की थी। ज्ञापन पर मंत्री श्री शर्मा ने विधि अनुसार कार्यवाही करने के लिये आश्वस्त कियाl  मंत्री श्री शर्मा को  ज्ञापन देने वालों में अखिल भारतीय जाट महासभा के पदाधिकारी एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।