भोपाल । राजधानी के सुल्तानिया अस्पताल (लेडी हॉस्पिटल) में 8 बिस्तर की नई गहन चिकित्सा ईकाई (आईसीयू) तैयार हो रही है। यह यूनिट अगले दस में तैयार होने की पूरी संभावना जताई जा रही है। यूनिट का ज्यादातर काम पूरा हो चुका है। बेड लगा दिए गए हैं। उपकरण भी आ गए हैं। अब उपकरण व पर्दे लगाने का काम होना है। इसमें करीब एक हफ्ते का समय लगेगा। अस्पताल के अधिकारियों ने कहा है कि 10 दिन के भीतर आईसीयू शुरू हो जाएगा। सुल्तानिया अस्पताल में कुल 235 बेड हैं। यहां पर आसपास के जिलों से सरकारी और निजी अस्पतालों के करीब 25 मरीज हर दिन रेफर होकर आते हैं। इनमें तीन-चार मरीजों को निगरानी के लिए आईसीयू में भर्ती करने की जरूरत होती है, पर अस्पताल में अभी सिर्फ छह बेड का आईसीयू होने की वजह से जगह नहीं मिल पाती। इन मरीजों को साधारण वार्ड में भर्ती करना पड़ता है।
     ऐसे में उनकी ठीक से निगरानी नहीं हो पाती। लिहाजा अब भूतल पर ही आठ बेड का आईसीयू बनाया जा रहा है। आईसीयू में फाऊलर बेड लगाए गए हैं। दो वेंटिलेटर पहले से हैं दो और वेंटिलेटर खरीदने की तैयारी है। ऑक्सीजन पाइप लाइन बिछाई गई है। मल्टी पैरा मॉनीटर सभी बेड पर लगाए जाएंगे। यहां बता दें कि अस्पताल की ओपीडी में रोजाना 250 से 300 मरीज आत है और रोज भर्ती मरीजों की संख्या 40 से 50 मरीज के मध्य होती है। इस बारे में सुल्तानिया अस्पताल के अधीक्षक  डॉ. आईडी चौरसिया का कहना है कि आईसीयू तैयार हैं। बिस्तर लग गए हैं। उपकरण भी आ गए हैं। हफ्ते भर के भीतर अन्य व्यवस्थाएं हो जाएंगी। 10-12 दिन में आईसीयू शुरू कर दिया जाएगा।