रायपुर । प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में गुणवत्ता को लेकर छत्तीसगढ़ ने पहला स्थान हासिल किया है। वर्ष 2019 में राष्ट्रीय स्तर के गुणवत्ता समीक्षकों ने कुल 204 सड़कों के निरीक्षण में 95.59 फीसदी कार्य संतोषजनक पाया। इस आधार पर निरीक्षकों ने छत्तीसगढ़ को पहला स्थान दिया है जबकि कर्नाटक दूसरे स्थान पर है। राज्य की इस उपलब्धि पर सीएम भूपेश बघेल और पंचायत ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव ने अमले को बधाई दी है।  योजना के सीईओ आलोक कटियार ने बताया कि राष्ट्रीय गुणवत्ता समीक्षकों ने जून 2019 तक छत्तीसगढ़ में सात किलोमीटर प्रतिदिन के हिसाब से कुल 2414 किलोमीटर लंबी सड़क का निर्माण सफलतापूर्वक कर लिया गया है। पिछले पन्द्रह सालों में किसी भी एक छमाही में इतनी लंबी सड़कों का निर्माण प्रदेश में पहले कभी नहीं हुआ। छत्तीसगढ़ के घोर माओवादी इलाकों में भी वृहत स्तर पर सड़कों का निर्माण कर लेना एक बड़ी उपलब्धि है। कटियार ने बताया कि योजना के प्रथम चरण के अंतर्गत सभी कार्य पूर्ण हो चुके हैं। इसके बाद ही दूसरे चरण की पात्रता दी गई थीं। गौरतलब है कि 2017-18 के सर्वे में छत्तीसगढ़ को तीसरा स्थान हासिल हुआ था। इसलिए नई रिपोर्ट को महत्वपूर्ण मना जा रहा है।