नई दिल्ली: जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख को लेकर किए गए ऐतिहासिक फैसलों के बाद अब बीजेपी ने जल्‍द होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए कमर कस ली है. बता दें कि आने वाले महीनों में महाराष्‍ट्र, हरियाणा और झारखंड में विधानसभा चुनाव होने हैं. अभी इन तीनों राज्‍यों में बीजेपी की सरकार है. ऐसे में यहां पर अपनी सरकार बचाने के लिए बीजेपी ने तैयारी शुरू कर दी है. दिल्ली, महाराष्ट्र व हरियाणा विधानसभा चुनावों के पहले भाजपा ने शुक्रवार को तीनों राज्यों के लिए चुनाव प्रभारी व उप प्रभारियों की नियुक्त की.

भाजपा महासचिव अरुण सिंह ने कहा कि केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को दिल्ली का चुनाव प्रभारी बनाया गया है, जबकि राज्यसभा सांसद भूपेंद्र यादव को महाराष्ट्र का और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को हरियाणा का प्रभारी बनाया गया है.

दिल्‍ली में जाति और क्षेत्र के फैक्‍टर का रखा गया ध्‍यान
बीजेपी की ओर से कहा गया है, "दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को चुनाव प्रभारी व हरदीप सिंह पुरी व नित्यानंद राय को उप प्रभारी नियुक्त किया है." हरदीप पुरी के माध्‍यम से जहां बीजेपी सिख वोटरों को साधेगी, वहीं नित्‍यानंद राय बीजेपी के पूर्वांचल के वोटर को साधेंगे.


हरियाणा व महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव इस साल के अंत में और दिल्ली में अगले साल के शुरुआत में कराए जा सकते हैं.


केन्द्रीय टीम की ओर से जारी एक विज्ञाप्ति में केशव मौर्य को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव का सहप्रभारी बनाया गया है. वहीं, भूपेन्द्र चौधरी को हरियाणा विधानसभा चुनाव के सहप्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है. उत्तर प्रदेश से विधान परिषद सदस्य केशव प्रसाद मौर्य को चुनाव प्रबंधन का माहिर माना जाता है.

उप्र विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रहे केशव प्रसाद मौर्य ने प्रयागराज के फूलपुर लोकसभा चुनाव में 2014 में पहली बार कमल खिलाया था. उनके नेतृत्व में भाजपा ने अच्छा प्रदर्शन किया था. इसी कारण उन्हें राज्य का उपमुख्यमंत्री भी बनाया गया था.