जॉर्जटाउन (गयाना): भारत और वेस्टइंडीज के बीच वनडे सीरीज (India vs West Indies) का पहला मुकाबला गुरुवार (8 अगस्त) को बारिश के कारण रद्द हो गया. बारिश ने इस मैच में एक-दो नहीं, पूरे तीन बार खलल डाला. शायद इसी कारण ना वेस्टइंडीज (West Indies) के बल्लेबाज पूरी लय में नजर आए और ना ही भारतीय गेंदबाज. इस आधे-अधूरे खेल में क्रिस गेल (Chris Gayle) तो इतने बेरंग नजर आए कि अपने करियर का अनचाहा रिकॉर्ड ही बना डाला. यूनिवर्स बॉस के नाम से लोकप्रिय जिस बल्लेबाज से दुनियाभर के गेंदबाज थर्राते हैं, उसने यहां अपने करियर की सबसे धीमी पारी खेली. 

39 साल के क्रिस गेल पहले ही संन्यास का ऐलान कर चुके हैं. यह उनकी विदाई सीरीज है. इस कारण गेल के प्रशंसक बड़ी उम्मीद से अपने स्टार बल्लेबाज को देख रहे हैं. लेकिन उन्हें गुरुवार को निराश होना पड़ा. क्रिस गेल ने भारत के खिलाफ इस मुकाबले में 31 गेंद में सिर्फ चार रन बनाए. यह उनके करियर की सबसे धीमी पारी (कम से कम 25 गेंद) है. भारत और विंडीज का यह मुकाबला 13 ओवर के बाद रद्द घोषित कर दिया गया. उस वक्त विंडीज ने एक विकेट पर 56 रन बनाए थे. 
गेल ने पहला ओवर मेडन खेला 
क्रिस गेल भारत के खिलाफ पहले वनडे मैच में शुरू से ही दबाव में नजर आए. इसे गेल पर बने दबाव का असर कहिए या भुवनेश्वर कुमार की शानदार गेंदबाजी, लेकिन हकीकत यही है कि वेस्टइंडीज के इस दिग्गज ने मैच का पहला ओवर मेडन खेला. उन्होंने दूसरे ओवर में मोहम्मद शमी की गेंद पर खाता खोला. गेल को खाता खोलने के लिए आठ गेंदें खेलनी पड़ीं. 

लगातार 13 गेंदें डॉट खेलीं 
ऐसा नहीं है कि क्रिस गेल ने सिर्फ खाता खोलने में वक्त लिया. उन्हें दूसरा रन बनाने के लिए 14वीं गेंद तक इंतजार करना पड़ा. गेल ने भुवनेश्वर की गेंद को मिडऑफ पर पुश कर अपना दूसरा रन बनाया. तीसरा रन उन्होंने जल्दी ही (16वीं गेंद) बना लिया. इसके बाद उन्होंने लगातार 13 गेंदें डॉट खेलीं और 30वीं गेंद पर चौथा रन लिया. 
10वीं बार 4 रन बनाकर आउट हुए 
क्रिस गेल का वनडे करियर का यह 299वां मैच था. उन्होंने अपने करियर में 37.80 की औसत से 10397 रन बनाए हैं. यह ओवरऑल 10वां और भारत के खिलाफ पहला मौका है, जब वे चार के निजी स्कोर पर आउट हुए हैं. यह भी पहला मौका है, जब वे चार रन बनाकर बोल्ड हुए हैं.