म.प्र. भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के अध्यक्ष श्री अन्टोनी डिसा ने कहा है कि रियल एस्टेट सेक्टर को विकास की नई ऊँचाईयों तक ले जाने के लिये जरूरी है कि बीमार परियोजनाओं को पुनर्जीवित करने की चुनौती स्वीकार की जाये। श्री डिसा नई दिल्ली में रॉयल इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड सर्वेयर लंदन द्वारा आयोजित रियल एस्टेट कॉन्‍फ्रेंस-2019 को संबोधित कर रहे थे।

श्री डिसा ने कहा कि हाउसिंग सेक्टर को प्रोत्साहित करने के लिये विनियमन, वित्त और प्रौद्यौगिकी के बीच समन्वय स्थापित किया जाना चाहिए। प्रदेशों में रेरा कानून को मजबूत बनाने के लिये अधिक शक्तियाँ दी जाना चाहिए। उन्होंने कहा ‍कि बीमार परियोजनाओं को पुनर्जीवित करने के लिये ठोस कदम उठाने की जरूरत है। सॉलवेन्सी कोड तथा वेनक्रोप्सी कोड में संशोधन करना आवश्यक है।